बेटी बचाओ पर निबंध – पढ़े यहाँ Save Girl Essay In Hindi

प्रस्तावना :

इस धरती पर हर एक मनुष्य जाती को बचाके रखने के लिए स्त्री और पुरुष इन दोनों का होना बहुत जरुरी हैं | एक स्त्री के बिना यह जीवन पूरा अधुरा होता हैं | जीवन में स्त्री का महत्व बहुत होता  हैं | सबसे पहले इस देश में स्त्री को एक कलंक माना जाता था |

प्राचीन काल में स्त्री को ज्यादा महत्व नही दिया जाता था | स्त्री को समाज में रहने के लिए भी उचित स्थान नही था | लडकों को उसका पूरा अधिकार दिया जाता था | लेकिन लड़की को उसका अधिकार कभी नही मिलता था | कई लोग लड़कियों को पेट में ही ख़त्म करते थे | लेकिन इस जीवन का मुख्य आधार स्त्री होती हैं |

कन्या भ्रूण हत्या

कई लोग बेटियों को गर्भ में ही मार देते थे | कई लोग ऐसा मानते थे की, बेटियां तो शादी के बाद  दुसरे के घर जाने वाली हैं | घर का वंश बढ़ाने के लिए लड़का जरुरी हैं | लड़के को घर वंश माना जाता हैं | इसलिए लडकियों को उनका जन्म होने से पहिले ही मार दिया जाता था |

कुछ लोग जब लड़की बड़ी हो जाती हैं उसके बाद उसकी शादी करने के लिए उनके पास पैसा नही होता था और दहेज़ के प्रथा को डरकर लड़की को मार देते थे | ज्यादा तो गरीब लोग कन्या भ्रूण हत्या करते थे | कई लडकिया बलात्कार जैसी समस्या को मजबूर होना पड़ता था |

संबंधित लेख:  इंटरनेंट पर निबंध - पढ़े यहाँ Essay Of Internet In Hindi

लडकिय इन सब समस्याओं का सामना करना पड़ता था | पुराने ज़माने में अनेक प्रथा रूढ़ थी | जिसके कारण भी लडकियों को मजबूर किया जाता था |

बेटी बचाओ मुहिम की शुरुआत

सभी लड़कियों को बचाने के लिए सरकार ने अनेक मोहिम की शुरुवात की हैं | उनमे से एक हैं – बेटी बचाओ | बेटी बचाओं, बेटी पढाओं इस अभियान की भी शुरुवात की हैं | हम सभी को ‘बेटी बचाओ’ इस मोहिम के द्वारा बताया गया हैं की, हर एक बेटी की रक्षा करनी होगी और उनको बचाना होगा |

जैसे की देश में कन्या भ्रूण हत्या, दहेज़ प्रथा, लिंगपात, बलात्कार ऐसी समस्यायों को मजबूर होना पड़ता था | यह सब समस्याओं को रोकना होगा और बेटियों को बचाना होगा |

बेटी बचाने के उपाय

स्त्री के बिना अपना परिवार कभी पूरा नही हो सकता हैं | स्त्री को बचाने के लिए हम सभी को प्रयत्न करना होगा | सभी बेटियों की रक्षा करनी होगी और उनको बचाना होगा | अस्पताल में लिंग जाँच की जाती हैं उसके ऊपर रोक लगानी होगी |

इस देश में दहेज प्रथा को लेने और देने के लिए रोकना होगा | इस देश में भारत सरकार के द्वारा जन धन योजना जैसी बहुत सारी स्कीम चलाई गयी हैं |

निष्कर्ष :

इस समाज में लड़की और लड़कों को एक समान माना जाता हैं ं | लड़की को जननी माना जाता हैं | अगर इस समाज में या देश में लडकिया नही रहेगी तो इस समाज और देश का विकास नही हो पायेगा | इसलिए हम सभी लोगो को लड़की को बचाना होगा |

संबंधित लेख:  स्वंतत्रता दिवस पर निबंध - पढ़े यहाँ Essay on Swatantrata Diwas in Hindi
Updated: March 19, 2019 — 12:14 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published.