मेरा पसंदीदा खेल पर निबंध – पढ़े यहाँ My Favourite Game Essay In Hindi

प्रस्तावना:

हमारे भारत देश में विभिन्न प्रकार के खेल खेले जाते हैं, किंतु कुछ खेल विदेशी हैं, तो कुछ खेल देश के है|

जैसे कि, क्रिकेट, फुटबॉल, चेस, बैडमिंटन, बॉल बैडमिंटन, फुटबॉल , टेबल टेनिस इत्यादि विदेशी खेल हैं| किंतु भारत देश के खेल जैसे की कबड्डी, खो-खो, सतोलिया, कंचे, गिल्ली डंडा तथा किट-किट इत्यादि खेल भारतीय हैं| जिनमें से मुझे फुटबॉल खेल पसंद है, वैसे हर व्यक्ति बचपन में कंचे तथा गिल्ली डंडा अवश्य खेलता है|

फुटबॉल खेल का इतिहास

पंद्रहवीं सदी में फुटबॉल नामक खेल का अविष्कार स्कॉटलैंड नामक स्थान पर हुआ| इसी कारण सन 1424 में इसमें कुछ कमियां देखते हुए स्कॉटलैंड में फुटबॉल एक्ट के तहत इस खेल को रद्द कर दिया गया|

जबसे इस खेल में संशोधन करने के बाद खेल पर ज्यादा समय तक प्रतिबंध नहीं रखा जा सका | क्योंकि फुटबॉल नामक खेल महिलाएं नहीं खेल सकती इस पर फिर से एक बार प्रतिबंध लगा किंतु वहीं महिलाएं फुटबॉल में अपनी रुचि दिखाते हुए इस खेल को पुनः प्रारंभ करवाया |

वर्तमान में फुटबॉल का महत्व

आज के समय में दौरे हाजिर में फुटबॉल नामक खेल को लेकर बड़े पैमाने पर लोग रुचि दिखाते हुए खेल रहे हैं, जिसे हमें यह ज्ञात होता है|

कि यह खेल का मुकाबला राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी खेला जाता है|  इस खेल का सबसे बड़ा मुकाबला फुटबॉल विश्व कप के प्रतियोगिता में होती है| वर्तमान समय में फुटबॉल सभी लोग खेल रहे हैं, माना जा रहा है कि, इस खेल से शारीरिक चुस्ती तथा दृष्टि बनी रहती है

संबंधित लेख:  ओलम्पिक खेलों पर निबंध हिंदी में - पढ़े यहाँ Olympic Sports Essay In Hindi

फुटबॉल खेलने की विधि

फुटबॉल खेल में प्रत्येक दल में 11-11 खिलाड़ी होना अति आवश्यक होता है| इस खेल में इन्हीं 11 खिलाड़ियों में से एक खिलाड़ी और खिलाड़ी लीडर होते हैं, जो की गेंद को गोले नेट में गोल करने हेतु निरंतर प्रयत्न करते रहते हैं|

इस खेल के मैदान आमतौर पर कम से कम 120 फुट लंबा और 70 फुट चौड़ा होता है, जिससे कि इस खेल में किसी को चोट ना आ सके इसमें भरपुर फैलाओ जगह का ध्यान रखा जाता है |

प्रत्येक गोल के सामने 10 फीट का बॉक्स खींचा हुआ होता है, जिसमें गोल करने हेतु एक गोलाकार में रेखा बनी हुई होती है| जिसमें गोल करना होता है|

इसी प्रकार से खेलते हुए इस खेल में जो भी टीम ज्यादा प्वाइंट बना लेता हैं | उस टीम को विजेता माना जाता है, लेकिन यह खेल 90 मिनट का होता है|

फुटबॉल खेल से लाभ

खेल चाहे कोई भी हो हमें शारीरिक स्फूर्ति का अनुभव होता है, और हमारा तन-मन चुस्त और दुरुस्त बना रहता है देखा जाए, तो फुटबॉल दौड़ भाग वाला खेल होता है|

जिसे लोग निरंतर भागम-भाग मचाकर अपना – अपना गोल करने के लिए दौड़ते रहते हैं, इसी दौड़ से हमारी शरीर में रक्त का बहाव तीव्रता से होती है, इससे हमारा शरीर स्वस्थ रहता है|

संबंधित लेख:  स्वतंत्रता दिवस पर निबंध - पढ़े यहाँ Short Essay On Independence Day In Hindi Language

निष्कर्ष:

हमारे जीवन में हमने बहुत से खेल-खेले होंगे, किंतु बचपन में सभी  गिल्ली-डंडा कंचे भागम-भाग, चोर-सिपाही आदि खेल खेलेते ही हैं |

कीर्ति फुटबॉल क्रिकेट हॉकी आदि प्रकार के खेल अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेल जाते हैं, हमें अपनी पहचान बनाने का मौका मिलता है, हमें सभी खेलों का सम्मान करना चाहिए और हमें सभी खेल को निष्ठा पूर्वक खेलना चाहिए |

Updated: March 15, 2019 — 8:02 am

Leave a Reply

Your email address will not be published.