हिंदी दिवस पर निबंध – पढ़े यहाँ Hindi Diwas In Hindi Essay

प्रस्तावना:

हमारा भारत देश यह एक बहुत बड़ा देश हैं | इस देश में प्राचीन समय से धर्म, भाषा और संस्कृति में विविधता होने बावजूद भी यहाँ पर सभी लोग मिल – जुलकर रहते हैं |

हमारे भारत देश अन्य भाषा बोली जाती हैं | हर एक देश की अपनी राष्ट्रीय भाषा होती हैं | देश की राष्ट्रीय भाषा यह हमारी असली पहचान होती हैं |

भाषा के द्वारा हम अपने आचार – विचारों को प्रदान कर सकते हैं | उसी प्रकार से हिंदी भाषा यह भारत देश सभी भाषाओँ में से सबसे राष्ट्रीय भाषा हैं |

हिंदी दिवस

हमारे भारत देश में हर साल १४ सितम्बर को हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता हैं | यह दिन इसलिए मनाया जाता हैं की, १४ सितम्बर, १९४९ को हिंदी भाषा को हमारे भारतीय संविधान सभा के द्वारा राजभाषा के रूप में स्वीकार किया गया हैं |

यह हिंदी भाषा देवनागरी लिपि में लिखी हुई हैं | इसकी वजह से हर साल १४ सितम्बर यह दिन हिंदी दिवस के रूप में मनाते हैं |

हिंदी की विशेषता

हिंदी को संस्कृत की सबसे बड़ी बेटी मानी जाती हैं | यह भाषा लिखने, पढने में अत्यंत सरल हैं | पुरे संसार का कोई भी व्यक्ति कुछ हिन् समय में इस भाषा को सीख सकता हैं | इस भाषा की दूसरी विशेषता हैं की, यह भाषा लिपि के अनुसार चलती हैं |

संबंधित लेख:  कश्मीर पर निबंध हिंदी में - पढ़े यहाँ Kashmir Essay In Hindi

इस भाषा में जैसा लिखा जाता हैं वैसे ही बोला जाता हैं | इस भाषा का मुख्य विशेषता यह हैं की, संसार के सभी भाषाओँ के शब्द घुलमिल जाते हैं | इस भाषा का साहित्य भी सबसे विशाल हैं |

हिंदी दिवस का महत्व

हिंदी दिवस यह हमारी असली पहचान की याद दिलाता हैं | यह दिन देश के सभी लोगों को एकजुट करता हैं | हम जहाँ पर भी जाए लेकिन हमें अपनी भाषा, संस्कृति और मूल्यों के साथ रहना चाहिए |

हर साल हिंदी दिवस यह हिंदी भाषा पर जोर देने के लिए और हर भावी पीढ़ी को बढ़ावा देने के लिए मनाया जाता हैं | हिंदी दिवस यह एक ऐसा दिन माना जाता हैं, जो  देशभक्ति की भावना के लिए प्रेरित करता हैं |

हिंदी दिवस का त्यौहार

हिंदी दिवस हर साल स्कूल, कॉलेज और सरकारी संस्थानों में भी मनाया जाता हैं | इस दिन के अवसर पर स्कूल और कॉलेज में अन्य प्रतियोगिता भी राखी जाती हैं | जैसे की निबंध लेखन, वाद – विवाद, कविता और अन्य सासंकृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता हैं |

इस देश सरकार के द्वारा पुरस्कार भी प्रदान किये जाते हैं | सरकार ऐसे लोगों को पुरस्कार देती हैं, जिन्होंने इस भाषा का प्रसार और प्रचार करने के लिए अपना बहुमूल्य समय लगाया हैं |

संबंधित लेख:  आंब्याच्या झाडा वर निबंध मराठी में - वाचा येथे Essay Of Mango Tree In Marathi

निष्कर्ष:

हिंदी यह हमारी मातृभाषा हैं और हम सभी लोगों को अपनी हिंदी भाषा पर गर्व होना चाहिए | सभी लोगों का कर्तव्य हैं की, हमारी राजभाषा का आदर और सम्मान करे | हमारे देश की राष्ट्रीय भाषा सभी लोगों को एकता के सूत्र में बांधने का कार्य करती हैं |

Updated: June 19, 2019 — 9:58 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *