पर्यावरण पर निबंध – पढ़े यहाँ Hamara Paryavaran Essay In Hindi

प्रस्तावना:

मनुष्य को एक अच्छा जीवन जीने के लिए शांत और स्वच्छ वातावरण की जरुरत होती हैं | मानव और पर्यावरण इन दोनों का बहुत गहरा संबंध हैं |

अगर इस पर्यावरण में थोडासा भी बदलाव हो जाता हैं, तो उसका परिणाम मनुष्य के स्वास्थ्य पर होता हैं | जैसे की अगर ज्यादा ठंडी पड़ती हैं तो सर्दी हो जाती हैं और ज्यादा गर्मी होती हैं तो हम उसे सहन नहीं कर पाते हैं |

प्राकृतिक पर्यावरण यह इस धरती पर सभी सजीव सृष्टि को जीवन जीने के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं | यह मनुष्य के साथ – साथ जानवरों और अन्य जीवित चीजों को विकसित करने के लिए सहायता करता हैं |

पर्यावरण का अर्थ

पर्यावरण यह दो शब्दों से बना हैं – परि + आवरण | परि का अर्थ होता हैं हमारे चारों ओर और आवरण का अर्थ होता हैं हमें चारों तरफ से घिरा हुआ |

पर्यावरण का अर्थ होता हैं – हमारे चारों तरफ का वातावरण | जैसे की वायु, भूमि, जल, पशु – पक्षी, पेड़ – पौधे, पहाड़ – पर्वत, नदी, जंगल इ पर्यावरण शामिल होते हैं |

पर्यावरण प्रदूषण की समस्या

आज पूरे विश्व में पर्यावरण प्रदूषण की समस्या सबसे ज्यादा बढ़ गयी हैं | मानव अपने स्वार्थ को पूरा करने के लिए पर्यावरण के साथ खिलवाड कर रहा हैं |

संबंधित लेख:  इंटरनेट के फायदे और नुकसान पर निबंध हिंदी में - पढे यहाँ Advantages And Disadvantages Of Internet Essay In Hindi

बढती जनसँख्या, अनियंत्रित औद्योगिकीकरण और शहरीकरण की वजह से वायु, जल और मृदा प्रदूषित हो रही हैं |

इसकी वजह से जलवायु में परिवर्तन होने लगा हैं, तापमान में वृद्धि हो गयी हैं, भूकंप आना इ के कारण पर्यावरण प्रदूषित हो रहा हैं |

पर्यावरण प्रदूषण के कारण

पर्यावरण प्रदूषण यह बहुत कारणों से होता हैं | इसकी वजह से पर्यावरण पर बहुत प्रभाव पड़ता हैं | उसके साथ – साथ मनुष्य के द्वारा कारखानों में से निकलने वाले दूषित जल, धुएं की वजह से पर्यावरण दूषित हो जाता हैं |

कई लोग नदी – नालों में दूषित जल छोड़ देते हैं | जिसकी वजह से जल प्रदूषण हो जाता हैं | जल प्रदूषण होने के कारण अन्य प्रकार की बिम्रिया फ़ैल जाती हैं |

औद्योगिकीकरण और शहरीकरण यश पर्यावरण प्रदूषण का मुख्य कारण हैं | मनुष्य हर दिन पेड़ों की कटाई कर रहा हैं |

पर्यावरण रक्षा के लिए उपाय

पर्यावरण को हरा – भरा रखने के लिए सभी लोगों को ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाने चाहिए |

कारखानों में से निकलने वाला धुआं और दूषित पदार्थ का सही तरीके से निस्तारण करना चाहिए |

पर्यावरण की साफ – सफाई करने पर ध्यान देना चाहिए |

पेड़ों की कटाई करने पर रोक लगानी चाहिए |

वाहनों का ज्यादा इस्तेमाल नहीं करना चाहिए |

संबंधित लेख:  दशहरा पर निबंध हिंदी में - पढ़े यहाँ Dussehra Essay In Hindi

सभी लोगों को पर्यावरण के महत्व के बारे में जागरूकता फैलानी चाहिए |

पर्यावरण दिवस

पुरे देश में ५ जून से १६ जून तक सभी लोगों को पर्यावरण के महत्व को समझाने के लिए यह दिवस मनाया जाता हैं | इस दिन अन्य जगहों पर विविध कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता हैं |

निष्कर्ष:

पर्यावरण यह हम सभी के जीवन का एक अभिन्न अंग हैं | इसलिए इसकी रक्षा करना सभी लोगों का कर्तव्य हैं | उसके साथ – साथ पर्यावरण प्रदूषण को रोकना बहुत जरुरी हैं |

Updated: June 19, 2019 — 8:23 am

Leave a Reply

Your email address will not be published.