शिष्टाचार पर निबंध – पढ़े यहाँ Good Manners Essay In Hindi

प्रस्तावना:

हर एक व्यक्ति के जीवन में शिष्टाचार का बहुत महत्व होता हैं | शिष्टाचार से ही हर एक व्यक्ति की पहचान होती हैं |

हर एक व्यक्ति को शिष्टाचार समाज में रहने के लिए एक लायक व्यक्ति बना देता हैं | शिष्टाचार की वजह से व्यक्ति बड़ों का सम्मान करना, छोटो से प्यार करना, अतिथि लोगों का आदर और सम्मान करना, बड़े लोगों की आज्ञा का पालन करना और सभी लोगों से प्यार से बाते करना इन सीखता हैं |

इसलिए हर एक व्यक्ति को पाने अंदर इन सभी बातों का लाना चाहिए और अपने आप को एक अच्छा व्यक्ति बनाना चाहिए |

शिष्टाचार शब्द का परिभाषा

शिष्टाचार यह शब्द दो शब्दों से मिलकर बना हैं – शिष्ट + आचार | जिसका अर्थ होता हैं – उच्च आचरण | जब कोई व्यक्ति बिना स्वार्थ से दूसरों का सम्मान करता हैं उसे शिष्टाचार कहा जाता हैं |

शिष्टाचार के कारण मनुष्य समय का पालन करना, अनुशासन में रहना और लोगों की सहायता करना यह अच्छी आदते सीखता हैं | शिष्टाचार की ताकद पर ही मनुष्य अपनी असली पहचान बनाता हैं |

शिष्टाचार की शिक्षा

हर एक व्यक्ति के जीवन में सबसे पहले गुरु उसके माता – पिता होते हैं | वो अपने बच्चों को अच्छे संस्कार देते हैं और उन्हें अच्छी आदते सिखाते हैं | अपने बच्चों को समाज में रहने लायक बनाते हैं |

संबंधित लेख:  जल संरक्षण पर निबंध कक्षा ४ के लिए - -पढ़े यहाँ Water Conservation Essay In Hindi For Class 4

माता – पिता हमें बड़ो का सम्मान करना सिखाते हैं और दूसरों से प्यार से बाते करने के लिए भी सिखाते हैं | उसके बाद उनके जीवन का दूसरा गुरु होता हैं – शिक्षक |

हर एक व्यक्ति स्कूल में अपने शिक्षकों के द्वारा बहुत कुछ सीखता हैं | वह बड़े लोगों और के आज्ञा और समय का पालन करना सीखता हैं | सबके साथ मिलजुलकर और प्यार से रहना सीखता हैं |

स्वच्छता एक आदत

हर एक व्यक्ति को अपने जीवन में अच्छा व्यवहार करने के साथ – साथ साफ – सुथरा भी रहना चाहिए |

साफ – सफाई रखना यह सभी अच्छी आदतों में से एक हैं | हर एक व्यक्ति को हर दिन स्नान करना चाहिए, साफ – सुथरे कपडे पहनने चाहिए |

व्यक्ति को अपना भोजन सही समय पर करना चाहिए और उसे अपने जीवन में हमेशा अच्छी आदतों को अपनाना चाहिए |

विनम्रता शिष्टाचार का लक्षण

विनम्रता यह शिष्टाचार का एक प्रमुख लक्षण हैं | अगर किसी व्यक्ति को बुलाना हैं तो उसे हाँ जी, अच्छा जी, नहीं जी कहकर अपना उत्तर देना चाहिए | किसी व्यक्ति के घर पर आए हुए मेहमानों को स्वागत मुस्कुराकर करना चाहिए |

जैसे की अंधों को सड़क पार करवाना, रेलगाड़ी  या बस में वृद्ध लोगों को बैठने के लिए जगह देना, रोगी लोगों को अस्पताल लेके जाना, मुसीबत में अपने दोस्त की सहायता करना यह सभी शिष्टाचार हैं |

संबंधित लेख:  शरद ऋतू पर निबंध - पढ़े यहाँ Essay On Sharad Ritu In Hindi

निष्कर्ष:

हर एक व्यक्ति के जीवन में शिष्टाचार एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं | शिष्टाचार की वजह से मनुष्य एक सभ्य व्यक्ति बन जाता हैं | व्यक्ति को किसी भी क्षेत्र में सफलता पाने के लिए अच्छे आचरण की जरुरत होती हैं |

हम सभी लोगों को समाज के द्वारा बनाए गए नियमों का पालन करना चाहिए और अपने हर एक कर्तव्य के प्रति जिमीदार बनना चाहिए | हम सबही को अपने जीवन में अच्छी आदतों को अपनाना चाहिए |

Updated: June 19, 2019 — 8:02 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *