भ्रष्टाचार पर निबंध कक्षा ७ के लिए – पढ़े यहाँ Corruption Essay In Hindi For Class 7

प्रस्तावना:

भ्रष्टाचार यह देश को लगा हुआ एक कलंक हैं | यह देश की सभी समस्याओं में से सबसे बड़ी समस्या हैं | भ्रष्टाचार यह हमारे समाज में फैलने वाली एक बिमारी हैं | यह बीमारी भारतीय समाज में तेजी से फ़ैल रही हैं |

इसका सबसे ज्यादा परिणाम देश और मनुष्य के ऊपर होता हैं | समाज और सभी लोगों के बीच में असमानता का मुख्य कारण हैं | भ्रष्टाचार राजनितिक, आर्थिक और सामाजिक रूप से देश के विकास के रूकावट में बाधा निर्माण करता हैं |

भ्रष्टाचार का अर्थ

भ्रष्टाचार यह शब्द दो शब्दों से बना हुआ हैं – भ्रष्ट + आचार | भ्रष्ट का अर्थ होता हैं – बुरा और आचार का अर्थ होता हैं – आचरण |

भ्रष्टाचार का अर्थ होता हैं की, जो लोग अपना कार्य पूरा करने के लिए गलत मार्ग को अपनाते हैं उसे ‘भ्रष्टाचार’ कहाँ जाता हैं |

भ्रष्टाचार की समस्या

आज हमारे देश में भ्रष्टाचार की समस्या बहुत तेजी से बढ़ रही हैं | कई लोग अपना स्वार्थ पूरा करने के लिए चोरी करना, किसी भी सामान को सस्ते में लेके आके महंगे में बेचना, ब्लैकमेल करना, पैसे लेकर रिपोर्ट छापना और ऐसे अन्य प्रकार के काम करता हैं |

भ्रष्टाचार यह आज भारत देश के अलावा भी अन्य देशों में भी बढ़ रहा हैं | यह एक बहुत बड़ी समस्या और बीमारी हैं | भ्रष्टाचार आज हर एक क्षेत्र में फ़ैल रहा हैं | अगर इसे रोका नहीं जायेगा तो पुरे देश को घिरा कर रखेगा |

संबंधित लेख:  गुरु पूर्णिमा पर निबंध कक्षा 5 के लिए - पढ़े यहाँ Guru Purnima Essay In Hindi For Class 5

भ्रष्टाचार के कारण

स्वार्थ की भावना

असमानता, सामाजिक या सम्मान के कारण मनुष्य अपने आप को भ्रष्ट बना लेता हैं | आभाव के कारण मनुष्य भ्रष्टाचार का शिकार बन जाता हैं |

मनुष्य अपने स्वार्थ को पूरा करने हेतु भ्रष्टाचार जैसे गलत मार्ग को अपनाता हैं | कालाधन भी भ्रष्टाचार को सबसे ज्यादा बढ़ावा देता हैं |

भ्रष्टाचार का परिणाम

भ्रष्टाचार की वजह से देश का राष्ट्रीय आचरण बिगड़ जाता हैं | इसके कारण देश के विअक्स में रूकावट आ जाती हैं और देश के लोगों को उसका लाभ नहीं हो पाता हैं |

जो लोग ईमानदारी से कार्य करते हैं वो हर मुश्किल का हिम्मत से सामना करते हैं | भ्रष्टाचार के कारण गरीब लोग अधिक गरीब हो जाते हैं | इसका सबसे ज्यादा प्रभाव आम जनता पर होता हैं |

भ्रष्टाचार दूर करने के उपाय

भ्रष्टाचार को दूर करने के लिए मनुष्य को अपना स्वार्थ पूरा करने के लिए गलत या बुरा मार्ग अपनाना नहीं चाहिए | उसे हर मुसीबत का सामना हिम्मत और साहस से करना चाहिए |

लोगों को ईमानदारी से कार्य करना चाहिए | देश में लगातार विम्रुद्रिकरण करना चाहिए ताकि छुपा हुआ कालाधन बाहर आ जायेगा | लोकसंख्या का प्रमाण कम करना चाहिए |

निष्कर्ष:

भ्रष्टाचार यह बहुत बड़ी समस्या हैं | जिसके कारण सभी लोगों को इस समस्या का सामना करना पड़ता हैं | इसे रोकने के लिए और सभी लोगों में जागरूकता फ़ैलाने के लिए ९ दिसंबर को आंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस मनाया जाता हैं |

संबंधित लेख:  बैडमिंटन पर निबंध- पढ़े यहाँ Badminton In Hindi Essay
Updated: May 18, 2019 — 9:36 am

Leave a Reply

Your email address will not be published.