जलवायु परिवर्तन पर निबंध हिंदी में – पढ़े यहाँ Climate Change Essay In Hindi

प्रस्तावना :

जलवायु परिवर्तन मतलब जलवायु की स्थितियों और रचना में अलग प्रकार के बदलाव हो जाते है | जलवायु परिवर्तन अलग अलग कारणों से होता है | जलवायु परिवर्तन का प्रभाव प्रकृति के ऊपर होता है | जलवायु परिवर्तन बहुत सालों हो रहा है |

इस पुरे वातावरण में बहुत सारे बदलाव प्राकृतिक कारणों से प्रभाव होते है | कही प्राकृतिक घटक वातावरण में दबाव डालते है | जैसे की सौर विकिरण में असमानता, ज्वालामुखी विस्फोट ई. घटकों का प्रभाव पद जाता है |

वनों पर प्रभाव

वन पर्यावरण का संतुलन बना के रखने लिए बहुत बड़ी भूमिका निभाते है | वन कार्बन डाइऑक्साइड को शोषित करते है और हर मनुष्य को ऑक्सीजन प्राप्त करते है |

वातावरण में कई बदलाव के कारण पेड़ो की कई प्रजातिया नष्ट हो रही है | पेड और पौधों के विलुप्त होने के कारण जैव विविधता कम होती जा रही है |

ध्रुवीय स्थान पर प्रभाव

Essay on Pollution in Hindiबदलते जलवायु परिवर्तन का परिणाम ध्रुवीय स्थान पर होता है | यदि परिवर्तन हमेशा ऐसे ही चालू रहेगा तो आने वाले समय में ध्रुवीय स्थान पर जीवन पूरी तरह से नष्ट हो जायेगा |

जल प्रभाव

जलवायु के परिवर्तन के कारण हमारे सभी जल प्रणाली के ऊपर बहुत बड़ा प्रभाव हो रहा है | इस बदलते मौसम की वजह से वर्षा के स्वरुप में परिवर्तन हो रहा है और अलग अलग जगह पे बाढ़ की स्थिति निर्माण हो रही है | और कई जगह सुखी पड रही है |

संबंधित लेख:  स्वच्छता पर निबंध - पढ़े यहाँ Cleanliness Essay In Hindi

वन्य जीव पर प्रभाव

बदलते परिवर्तन की वजह से बाघ, अफ़्रीकी हाथियों, एशियाई गेंडो और ध्रुवीय भालू यह सभी जंगली जानवरों की संख्या कम होती जा रही है |

जलवायु परिवर्तन का प्रभाव जानवरों के ऊपर हो रहा है और वो उसका सामना नही कर पा रहे है | इसलिए यह जानवरों की प्रजाति नष्ट होती जा रही है |

निष्कर्ष :

जलवायु परिवर्तन होने के कारण इसका प्रभाव ज्यादा तो पर्यावरण पे हो रहा है |

Updated: February 28, 2019 — 11:42 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *