क्रिसमस पर निबंध हिंदी में – पढ़े यहाँ Christmas Essay In Hindi

प्रस्तावना:

क्रिसमस एक बड़ा त्यौहार है | क्रिसमस इसाइयों का प्रसिद्ध त्यौहार है | यह त्यौहार हर साल २५ दिसम्बर को पुरे भारत देश में मनाया जाता है | क्रिसमस यह त्यौहार प्रभु इसा मसीह के जन्म दिन के रूप में मनाया जाता है |

यह इसाइयों का सबसे बड़ा और ख़ुशी का त्यौहार है | इस त्यौहार को सबसे बड़ा दिन भी कहा जाता है | इस त्यौहार का बच्चे लोग बहुत बेसब्री इंतजार करते है |

क्रिसमस की तैयारी

इसाइयों लोग ४ हफ्ते से पहिले ही इस उत्सव की शुरुवात करते है और १२ वे दिन पर समाप्त हो जाती है | यह त्यौहार पुरे देश में धार्मिक और पारंपरिक रूप से मनाया जाता है | क्रिसमस त्यौहार को मनाने की हर परंपरा अलग अलग होती है |

घर घर में साफ – सफाई की जाती है | नए नए कपडे ख़रीदे जाते है | इस दिन सभी लोग एक दुसरे को बधाईयां देते है | इस दिन विशेष तो चर्चों को सजाया जाता है |

रुढ़ी और परंपरा

इसाई धर्म में सभी लोग भगवान येशू की पूजा करते है | क्रिसमस के त्यौहार की परंपरा है जो इस दिन बड़े या छोटे बच्चे लोग एक दुसरे को सुन्दर ग्रीटिंग कार्ड भेजते है और उनको बहुत सारी बधाईयाँ देते है | हर कोई परिवार के लोग और दोस्तों को दावत देते है |

संबंधित लेख:  अंतरिक्ष पर हिंदी में निबंध - पढ़े यहाँ Essay On Space In Hindi

इस दिन सभी इसाई लोगो को मिठाई, ग्रीटिंग कार्ड, चॉकलेट, क्रिसमस पेड़ इ. हर पारिवारिक के सदस्यों, दोस्तों और रिश्तेदार को देने की परंपरा है | इस दिन को गाना गाकर, नाचकर, पार्टी मनाकर और अपने सभी लोगो से मिलजुलकर बहुत ख़ुशी से मनाते है |

क्रिसमस त्यौहार की विशेषता

इसा मसीह के जन्म का दिन इसाई धर्म के लोगो के लिए बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है | प्रभु येशु एक ऐसे व्यक्ति थे, उन्होंने लोगों को जीवन जीने का रास्ता दिखाया और हर दुःख से और तकलीफों से बचाए | इसा मसीह ने ऐसे समय जन्म लिया जब की समाज में लालच नफरत और हिंसा यह सब कृतिया मन में भरी हुई थी |

उनको भगवान के रूप में धरती पर रहने वाले लोगो को प्रकाश और सच्चाई का मार्ग दिखने के लिए भेजा गया था | जिससे वो हर दुःख और तकलीफों की समस्या दूर कर सके | क्रिसमस एक ऐसा त्यौहार है इस दिन येशू जैसे मानवता के रक्षक का जन्म हुआ था |

क्रिसमस पेड़

क्रिसमस ट्री के बिना कभी क्रिसमस त्यौहार पूरा नही हो सकता है | क्रिसमस के दिन इस पेड़ को सब लोग अच्छे तरह सजाते है | यह भगवान येशू का प्रतिक है | इसलिए इस पेड़ को बहुत महत्व है | क्रिसमस पेड़ के रूप में देवदार या स्प्रीस के पेड़ों का उपयोग किया जाता है |

संबंधित लेख:  दादी पर निबंध - पढ़े यहाँ Dadi Maa Essay In Hindi

क्रिसमस के दिन इस पेड़ को अलग – अलग सितारों, गुब्बारों, झालरों और तोहफों से सजाया जाता है | लोग ऐसा मानते है, क्रिसमस पेड़ सभी लोगो की अन्दर सकारात्मक शक्ति का संचार करता है और नकारात्मक बुराई को दूर करता है |

निष्कर्ष :

क्रिसमस एक ऐसा त्यौहार है जो पुरे देश में लोगो में प्यार – मोहब्बत बढाता है | यह ऐसा त्यौहार है जो दुसरोको भी पवित्रता के मार्ग पर चलने की सीख देता है |

Updated: February 25, 2019 — 2:08 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published.