यदि हिमालय न होता पर निबंध – पढ़े यहाँ Yadi Himalaya Na Hota Essay In Hindi

प्रस्तावना:

हमारे भारत देश को हिमालय जैसा पर्वत लाभा हैं | इस हिमालय को पर्वतों का राजा कहा जाता हैं | यह बहुत ही विशाल पर्वत हैं | हिमालय की माउन्ट एवरेस्ट यह सबसे ऊँची छोटी हैं | हिमालय की गोद में बहुत सारे गाँव बसे हुए हैं |

अन्य कवियों ने हिमालय को भारत का ताज कहा हैं | हिमालय यह प्राकृतिक अनमोल संपत्ति हैं | हिमालय पर्वत हमारे भारत देश की शान हैं |

यदि हिमालय न होता तो –

देश का इतिहास

अगर हिमालय न होता तो सृष्टि का इतिहास कुछ और ही होता | हमारा भारत देश उत्तर दिशा में सुरक्षित नहीं होता | हमारे भारतीय संस्कृति का आध्यात्मिक स्वरुप किसी अन्य रूप में दिखाई देता |

गंगा – जमुना – ब्रह्मपुत्र और पाच नदियों का अस्तित्व नहीं होता | पुरे विश्व को जल के बिना तडपना पड़ता | लोगों को प्रकृति का सौदर्य देखने को नहीं मिलता |

यदि हिमालय न होता तो सबसे ज्यादा प्रभाव भगवान शिवजी पर पड़ता | हिमालय (कैलास पर्वत) यह उनका निवास स्थान न होता | भगवान शिवजी की अर्धांगिनी पार्वती ना होती | उमा या पार्वती हिमालय की पुत्री हैं |

अन्य देवस्थान

यदि हिमालय पर्वत ना होता तो उसके गोद में बसे हुए देवस्थान नहीं होते | अमरनाथ, कैलास मानसरोवर, बद्रीनाथ, केदारनाथ, हरिद्वार और अन्य पूजा के मंदिरे ना होती |

शंकराचार्य का ज्योतिर्मठ ना होता | अगर हिमालय न होता तो तपस्वी साधकों का पवित्र स्थान नहीं होता |

उद्योगों का निर्माण

हिमालय के पास बहुत सारे खनिज पदार्थ हैं | उसकी वजह से मनुष्य को बहुत लाभ होता हैं | अगर हिमालय न होता तो बहुत सारी ठंडी हवाएं हमारे तरफ आ सकती हैं | हिमालय पर्वत ठंडी हवा को रोकने का कार्य करता हैं | जिसके कारण हम सुरक्षित रह पाते हैं |

हिमालय के चारों तरफ जंगल हैं और उसे हमें आर्थिक लाभ मिलता हैं | लकड़ी पर आधारित उद्योग हैं जो इसी के आधार पर होते हैं | इसके बिना इन उद्योगों का अस्तित्व सीमित ही रह सकेगा |

पर्यटन

यदि हिमालय न होता तो पर्यटन का कार्य नहीं होता और सृष्टि की प्राकृतिक सौदर्य की कल्पना नहीं होती | हिमालय नहीं होता तो बहुत सारे पर्यटकों को पर्यटन स्थल नहीं देखने मिलता |

हिमालय के घने जंगलों के आभाव और हिमनदी के अभाव में वर्षा ना होती धरती प्यासी ही रहती | शेर, हाथी और चीते यह वन्य जीव नहीं होते | यदि हिमालय न होता तो कश्मीर नहीं होता और ना केसर की क्यारियां होती |

निष्कर्ष:

इसी प्रकार से हिमालय हमारे भारत देश के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण हैं | यदि यह हिमालय न होता तो हम सभी को इन सभी सुविधाओं से वंचित रहना पड़ता | उसकी सुंदरता देखने को नहीं मिलती |

Updated: May 23, 2019 — 9:54 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *