जल संरक्षण पर निबंध – पढ़े यहाँ Water Conservation Essay In Hindi

प्रस्तावना:

जल जीवन में सबसे ज्यादा जरुरी होता हैं | बिना जल के कोई भी मनुष्य अपना जीवन नहीं जी सकता हैं | जल यह प्रकृति के द्वारा मिला हुआ एक उपहार हैं | इस धरती पर जल होने के कारण सजीव सृष्टी और मानव का अस्तित्व हैं |

जल के स्त्रोतों से मिलने वाले जल का उपयोग मनुष्य हर एक कार्य में करता हैं | जल यह मनुष्य के साथ – साथ सभी सजीवों के लिए भी आवश्यक होता हैं | मनुष्य को इस धरती पर जल मिलने की वजह से वो जल का दुरूपयोग करने लगा हैं |

जल संरक्षण का अर्थ –

जल संरक्षण का अर्थ होता हैं – किसी भी हानिकारक वस्तु से जल को बचाना होता हैं |

जल के स्त्रोत

मनुष्य को जल नदी – नाले, समुंद्र कुआँ, नल, झरने इत्यादि जल के स्त्रोतों से प्राप्त होता हैं | इन सभी जल के स्त्रोतों से मिलने वाले जल का उपयोग मनुष्य अपने जीवन में करता हैं |

हमारे इस पृथ्वी पर ७१% भाग जल से घिरा हुआ हैं | लेकिन मनुष्य को २% जल स्वच्छ जल के रूप में मिलता हैं | इस धरती पर पिने लायक जल बहुत ही कम हैं |

जल के प्रकार

जल यह दो प्रकार का होता हैं – एक मीठा जल और दूसरा खारा जल | मीठा जल का उपयोग मनुष्य अपने जीवन में करता हैं | जैसे की पिने के लिए, खाना बनाने के लिए, कपड़ा धोने के लिए और बर्तन धोने के लिए करता हैं | खारे जल का उपयोग किसी भी कार्य में नहीं किया जाता हैं |

जल की कमी

मनुष्य कार्य करते समय कभी – कभी जल की बहुत ज्यादा बर्बादी करता हैं | काम न होने पर भी जल को व्यर्थ करता हैं |

कई लोग नलों को खुले ही छोड़ देते हैं | मनुष्य सफाई करते समय भी जल का बहुत उपयोग करता हैं | जल की ज्यादा बर्बादी होने की वजह से जल की कमी होने लगती हैं |

जल संरक्षण

जल का संरक्षण करने के लिए सबसे पहले मनुष्य को जल के महत्व को समझना चाहिए | जल की ज्यादा बर्बादी नहीं करनी चाहिए | नलों को खुला नहीं छोड़ना चाहिए | मनुष्य को हर कार्य होने के बाद नल को अच्छे से बंद कर देना चाहिए |

पेड़ – पौधों को पानी देने के लिए मनुष्य को पाइप की जगह बाल्टी या फव्वारे का उपयोग करना चाहिए | मनुष्य को बारिश के पानी को तालाबों में जमा करके रखना चाहिए |

जल प्रदूषण को रोकथाम

जल को प्रदूषित होने से रोकना चाहिए | कई लोग कंपनीयों और कारखानों में से निकलने वाला दूषित जल नदी – नाले, समुन्दर में छोड़ देते हैं | जिसकी वजह से जल दूषित हो जाता हैं | कई लोग नदी – नालों में कचरा फेकने के कारण जल दुर्गंधित हो जाता हैं |

निष्कर्ष:

हम सभी लोगों को जल के महत्त्व को समझना चाहिए और उसे बचाना चाहिए | जल को ज्यादा व्यर्थ ना करे | जल का संरक्षण करने के लिए मनुष्य को वृक्षारोपण करना चाहिए |

मनुष्य का पूरा जीवन जल के ऊपर ही निर्धारित होता हैं | जल से मनुष्य को नया जीवन मिलता हैं, इसलिए कहा गया हैं जल ही जीवन हैं |

Updated: April 10, 2019 — 12:50 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *