ताजमहल पर निबंध हिंदी में -पढ़े यहाँ Taj Mahal Essay In Hindi

प्रस्तावना :

ताजमहल से सम्बंदित कई बातें लोगों ने सुनी होगी| ताजमहल को जब कोई एक बार  देखता है | तो उसे देखते ही रहते है| जैस की हम जानते है की विश्व में कुल सात अजूबे है, जिसमे से ताजमहल एक है |

ताजमहल भारत के उत्तर प्रदेश  के तीसरे बड़े जिले में आगरा में स्थित है| उत्तर प्रदेश का आगरा जिला का एक ऐतिहासिक महत्वपूर्ण रहा है |  दिल्ली का आगरा यह मुगलों का सबसे पसंदीदा शहर रहा है, यही कारण है की मुगलों ने आगरा को अपनी राजधानी बनाना उचित समझा|

आगरा शहर को सर्वप्रथम इब्राहीम लोदी द्वारा सन १५०४ में  बसाया गया था| उस समय यह किसी को भी ज्ञात नहीं था की, एक समय आएगा जब ये शहर सम्पूर्ण विश्व में अपनी खूबसूरती का परिचय देगा |

ताजमहल का इतिहास 

पर्शिया देश की राजकुमारी जिनका नाम मुमताज महल था | वही पर मुमताज को पाने ही महल के एक सिपाही से प्रेम हो गया जिनका नाम शाहजहाँ था | और शाहजहाँ भी मुमताज महल से प्रेम करते थे अतः उन्होंने मुमताज के पूर्व पति को मरवा दिया था | इसके बाद मुमताज महल ने मुग़ल शाशक शाजहाँ से सन (१६१२) विवाह कर लिया था |

ताजमहल का निर्माण 

मुमताज महल ने सन १६३१ में अपनी १४ वी सन्तान को अपनी ३७वर्ष की उम्र में जन्म दिया जिसे नाम दिया गया गौहरा बेगम और उसी समय उन्होंने अपना दम तोड़ दिया |शाहजहाँ ने ताजमहल का निर्माण अपनी असीम प्रेम की निशानी के रूप में तथा मुमताज के स्मरण में करवाई थी ताजमहल को मुग़ल शासक ने मुमताज का मकबरा भी कहते है|

 सन १६३१ के बाद ही शाहजहाँ ने ताजमहल का निर्माण कार्य अपनी अधिकारी रूप से करने की घोषणा की थी | 

ताजमहल की रचना

ताजमहल के निर्माण के लिए लगने वाला कुल खर्च लगभग ३२० लाख रूपये थी |और इसके निर्माण के लिए लगभग २०,००० से अधिक कारीगरों ने मुग़ल के शिल्पकार उस्ताद अहमद लाहौरी के अधीन काम किया था |

युरेंसको द्वारा ताजमहल को विश्व की धरोहर घोषित किया था|  और यह मानवीय कृतियों में से एक माना जाने लगा|

 कुछ प्राचीन लोगो का ऐसा भी मानना था की, ताजमहल के निर्माण कार्य के समाप्त होने के बाद शाहजहाँ ने अपने पुरे कारीगरों के हाथ कटवा दिए थे, जिससे की वो दोबारा कोई ऐसी भव्य कृतिम न बना सकें |

 अतः ताजमहल की रचना प्राचीन तथा मुग़लों के कला पर आधारीत है | ताजमहल यह सफ़ेद संगमरमर द्वारा बनाया गया है जिसमे कुल २८ प्रकार के पत्थरो का उपयोग किया गया है|निष्कर्ष :

ताजमहल की सुन्दरता का वर्णन शब्दों में करना बहुत ही मुश्किल है | ताजमहल सम्पूर्ण विश्व को सुन्दरता के रूप में बहुत प्रभावित करता हैताज महल प्रति वर्ष लाखों पर्यटकों को अपनी और आकर्षित करता है |

ताजमहल भारत सरकार द्वारा आय का एक स्त्रोत है  हमारा यह कर्त्तव्य है की हम दुनिया के कम से कम सात अजूबो में से किसी एक को दूषित होने से रोक सके अतः भारत सरकार को भी ताजमहल की सुन्दरता बनी रहे इसके लिए ठोस कदम उठाना चाहिये |

Updated: February 21, 2019 — 12:43 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *