प्रदुषण पर निबंध हिंदी में – पढ़े यहाँ Pollution Essay In Hindi

प्रस्तावना :

आज के दुनिया में प्रदुषण यह एक बहुत बड़ी समस्या बन गयी है | प्रकृति और मनुष्य के लिए यह एक एक बहुत बड़ी समस्या बनी है | प्रदुषण एक ऐसा अभिशाप है जो विज्ञानं की कोख से पैदा हुआ है और इस अभिशाप को झेलने के लिए पुरे देश की जनता को मजबूर होना पड़ रह है |

प्रदुषण शब्द का अर्थ –

प्रदुषण का अर्थ होता है – अपने आसपास की जगह और पुरे प्राकृतिक संतुलन में गन्दगी निर्माण होना | इसके कारण किसी भी इन्सान को ना शुद्ध हवा मिलती है, है स्वच्छ जल मिलता है ना अच्छा वातावरण मिलता है |

प्रदुषण के प्रकार

प्रदुषण के कई प्रकार होते है | जल प्रदुषण, वायु प्रदुषण और ध्वनी प्रदुषण ऐसे प्रदुषण के अलग अलग प्रकार है |

जल प्रदुषण 

बहुत सारे लोग कारखानों का दूषित पानी नदी, तलाव, नाले और समुन्दर में छोड़ते है | कई लोग दूषित पानी जलस्त्रोत में छोड़ते है | इसके कारण पानी का प्रदुषण होता है | कई लोग तलाव,समुन्दर में कचरा फेकते है |

इन सभी कारणों की वजह से जल प्रदुषण होता है | जब बाढ़ आती है तब सभी जगह दूषित पानी नदी नालो में चला जाता है | इसके कारण जल दूषित हो जाता है | जल दूषित होने के कारण बिमारियां फ़ैल जाती है |

वायु प्रदुषण

Essay On Air Pollution in Hindiयह प्रदुषण नगरो में और शहरों में ज्यादा दिखाई देता है | अन्य प्रकार के गाड़ियों से निकने वाला धूर और कारखानों में से निकलने वाला धूर इसके कारण वायु प्रदुषण होता है | इसके कारण इन्सान को साँस लेने तक बहुत मुश्किल हो जाता है |

वातावरण के ऊपर भी वायु प्रदुषण का परिणाम होता है | कई लोग जब त्योहार रहता है तब फटाके जलाते है | फटाके में से बहुत धुआ निकलने लगता है | उसके कारण वायु प्रदुषण भी होता है |

ध्वनी प्रदुषण

हर मनुष्य को जीवन जीने के लिए अच्छा वातावरण चाहिए | वाहनों के जोर से होने वाले आवाज के कारण और लाऊड स्पीकर के कारण होने वाला शोर यह सभी कारणों की वजह से ध्वनी प्रदुषण होता है |

अलग अलग कर्कश आवाज का परिणाम कानों पर होता है | सभी प्रदुषण का परिणाम मानवी जीवन पर होता है |

प्रदुषण के परिणाम

इन सब प्रदुषण के कारण मानव के जीवन में खतरा पैदा हो रहा है | उसको जीवन जीने के लिए शुद्ध हवा नही मिल पा रही है | उसको कई बिमारियों का सामना करना पड़ रहा है |

प्रदुषण के कारण प्राकृतिक संतुलन भ बिघड रहा है | प्रदुषण का परिणाम मानव, पशु पक्षी और प्राणियों के प्रजाति के ऊपर हो रहा है |

निष्कर्ष :

हम सभी को इस पर्यावरण को सुरक्षित रखना होगा | हमें सभी को प्रदुषण होने से रोकना होगा | पर्यावरण में ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाने की बहुत आवश्यकता है |

Updated: March 5, 2019 — 8:48 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *