कबूतर पर निबंध – पढ़े यहाँ Pigeon Essay In Hindi

प्रस्तावना:

कबूतर यह एक सुंदर और घरेलू पक्षी हैं | कबूतर पुरे विश्व में पाया जाने वाला एक पक्षी हैं | कबूतर यह शांत स्वभाव का पक्षी हैं |

यह निरंतर उड़ने वाला पक्षी हैं | कबूतर की अनेक प्रजाति पायी जाती हैं | लेकिन हमारे भारत देश में ज्यादातर तो सलेटी रंग और सफ़ेद रंग के कबूतर पाए जाते हैं |

कबूतर की शरीर रचना

कबूतर पक्षी का शरीर पंखों से ढका होता हैं | कबूतर की एक नुकीली चोंच होती हैं और उसके माथे पर तवचा की झिल्ली होती हैं |

कबूतर की छोटी गर्दन होती हैं और लघु पतला बिल होते हैं | कबूतर घोसले में रहते हैं | कबूतर कई प्रकार के होते हैं | कबूतर बीज, अनाज, मेवे, जामुन, सेब इत्यादि खाते हैं | कबूतर ज्यादा तो दाना चुगते हुए दिखाई देते हैं | उनको दाना चुगना बहुत पसंद हैं |

कबूतरों का पालन

कई लोग कबूतरों का पालन करते हैं | पुराने ज़माने में कबूतरों का ज्यादा पालन किया जाता था | सबसे पहले कबूतरों का उपयोग संदेशवहन करने के लिए किया जाता था | कबूतर ज्यादा तो हवेलियों में रहना पसंद करते हैं |

कबूतर की सुंदरता के कारण के कारण सफ़ेद रंग के कबूतरों को अपने घरों में पाला जाता हैं | कबूतर यह पक्षी सफ़ेद रंग का होने के कारण इसे पर्व इस नाम से भी जाना जाता हैं |

संदेशवहन का कार्य

पुराने ज़माने में कबूतरों का प्रयोग पत्र और चिट्ठिया भेजने के लिए किया जाता था | कबूतरों को शांति का और अच्छे भाग्य का प्रतीक माना जाता हैं | पुराने ज़माने में पोस्ट ऑफिस से सुविधा उपलब्ध नही थी |

इसलिए एक व्यक्ति को दुसरे व्यक्ति को पत्र या चिट्ठी भेजने के लिए कबूतरों के द्वारा भेजा जाता था | यह संदेशवहन का कार्य करती हैं | कबूतर यह एक बुद्धिमानी पक्षी हैं |

विभिन्न भागों

कबूतर यह पक्षी ज्यादातर यूरोप, उत्तर आफ्रिका और आशिया खंड इ. भागों में ज्यादा दिखाई देते हैं | कबूतर यह पक्षी छोटी – बड़ी शहरे, खेत की जगह, रेल्वे स्थानक, इमारती और किले इत्यादि. स्थानों पर बहुत आसानी से रह सकते हैं |

कबूतर की विशेषता

कबूतर किसी भी बात को बहुत अच्छे से याद रखता हैं | कबूतर १०० किमी प्रति घंटा के तेजी से उड सकते हैं | यह ज्यादा से ज्यादा ऊंचाई तक उड सकते हैं |

कबूतर १२०० किमी तक किसी अनजान जगह से बिना रास्ता भूलकर वापस आ सकते हैं | उनके पास सुनने की क्षमता अभूत अधिक होती हैं |

निष्कर्ष:

यह एक ऐसा पक्षी हैं, जो कबूतर पुराने समय से मनुष्य के करीब हैं | कबूतर यह एक ऐसा पक्षी है जिसका स्वभाव बहुत शांत होता हैं और यह उपयोगी पक्षी हैं |

यह किसी को भी कोई नुकसान नहीं पहुँचाते हैं | कबूतर वह एक बहुत ही अच्छा पक्षी हैं | लेकिन उसकी प्रजाति बहुत कम बचीं हैं | उसकी प्रजाति को बचाने के लिए सभी को प्रयास करना होगा |

Updated: April 4, 2019 — 2:26 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *