ध्वनि प्रदुषण पर निबंध – पढ़े यहाँ Noise Pollution Essay In Hindi

प्रस्तावना:

ध्वनि प्रदूषण यह एक बहुत बड़ी समस्या हैं | सभी प्रदूषणों में से ध्वनि प्रदूषण यह एक आधुनिक समय की सबसे बड़ी समस्या बन चुकी हैं |

ध्वनि प्रदूषण का सबसे ज्यादा असर मनुष्य के जीवन पर होता हैं | ध्वनि प्रदूषण की समस्या ज्यादा शोर की वजह से होता हैं और मनुष्य को बहुत नुकसान पहुँचता हैं |

ध्वनि प्रदूषण

ध्वनि प्रदूषण विविध ध्वनि के साधनों से होने वाले ज्यादा शोर को कहते हैं | जैसे की वाहनों का आवाज, मशीनों का आवाज इत्यादि |

ध्वनि प्रदूषण के कारण

ध्वनि प्रदूषण अन्य कारणों के वजह से फैलता हैं | ध्वनि प्रदूषण के कई कारण निमंलिखित हैं –

वाहनों का शोर

हर दिन सड़क पर दौड़ते वाहन जैसे की अन्य गाडियां, बस, मोटर साइकल इत्यादि वाहनों के शोर के कारण ध्वनि प्रदूषण होता हैं | अन्य वाहनों की हॉर्न की आवाज बहुत ज्यादा होती हैं |

हवाई जहाज

हवाई जहाज जब उड़ान भरते समय और नीचे उतारते वकत इसकी आवाज बहुत ज्यादा होती हैं |

मनोरंजनात्मक साधन

आज के जीवन में मनुष्य अपने मनोरंजन के लिए बहुत साधनों का इस्तेमाल करता हैं | जैसे की टेलीवीजन, रेडिओ, स्पीकर और थियेटर इत्यादि |

इन सभी का उच्च आवाज पर गाने या फिर कार्यक्रमको चलाने से ध्वनि प्रदूषण होता हैं | अन्य कार्यक्रमों और शादियों में बजने वाले बैंड की वजह बहुत तेज ध्वनि उत्पन्न हो जाता हैं |

मशीनों का शोर

हमारे आसपास बहुत सारे उद्योग चलाये जाते हैं | उन सभी उद्योगों में बड़ी – बड़ी मशीनों का उपयोग किया जाता हैं | काम करने वाली मशीनों के कारण बहुत शोर निर्माण हो जाता हैं |

ध्वनि प्रदूषण का परिणाम

ध्वनि प्रदूषण का सबसे ज्यादा परिणाम वातावरण और मनुष्य के स्वास्थ्य पर पड़ रहा हैं | मनुष्य के शारीरिक और मानसिक इन दोनों स्थिति पर बहुत बुरा असर पड़ रहा हैं | ज्यादा शोर की वजह से मनुष्य की सुनने की शक्ति कम हो जाती हैं |

मनुष्य बहरेपन का शिकार बन जाता हैं | ज्यादा शोर की वजह से मनुष्य को नींद नहीं आती हैं और उसे बीमारी का सामना करना पड़ता हैं | उसकी वजह से मनुष्य पर तनाव रहता हैं और चिडचिडापन हो जाता हैं |

ध्वनि प्रदूषण रोकने के उपाय

आज लगातार बढ़ रहे ध्वनि प्रदूषण को रोकना बहुत जरुरी हैं | ध्वनि प्रदूषण को रोकने के उपाय-

सरकार को सड़कों पर चलने वाले वाहनों के हॉर्न को कम करने के लिए कानून बनाने चाहिए |

अन्य कार्यक्रमों और रेडिओ के लाउड स्पीकर का इस्तेमाल करना बंद करना चाहिए |

शादी और पार्टियों में १० बजे के बाद गाना बजाना बंद कर देना चाहिए |

निष्कर्ष:

ध्वनि प्रदूषण की समस्या ज्यादातर शोर की वजह से निर्माण होती हैं | इस समस्या को दूर करने के लिए सभी लोगों को प्रयास करना चाहिए | इसे रोकने के लिए प्रचार और प्रसार करना चाहिए | उसके साथ – साथ लोगों को जागरूक करना चाहिए | ध्वनि प्रदूषण को रोकने के लिए ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाने चाहिए |

Updated: May 23, 2019 — 4:49 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *