समाचार पत्र पर निबंध – पढ़े यहाँ Newspaper Essay In Hindi

प्रस्तावना :

मनुष्य एक बुद्धिमान और सामाजिक प्राणी है | मनुष्य को ज्यादा ज्ञान रहता है लेकिन अधिक ज्ञान पाने के लिए वो विविध साधनों का इस्तेमाल करता है | विज्ञानं ने इस संसार को बहुत छोटे रूप में बना दिया है |

देश में बहुत सारे साधनों का विका हो चूका है | इसलिए हर मनुष्य रेडिओ, टीवी और समाचार पत्रों से देश की अन्य खबरे पढ़ लेते है और सून भी सकते है |

यह सब साधनों की वजह से हमें कही अन्य देशो में जाना नही पड़ता है | मनुष्य के जीवन में जितना महत्व जल का होता है उतना ही महत्व समाचार पत्रों का भी होता है |

किसी व्यक्ति को समाचार पढने की और सुनने की आदत होती है | वो व्यक्ति अपने घर पर अखबारों से समाचार पढ़ सकता है |

समाचार पत्र की शुरुवात

इस भारत देश में अंग्रेजों ने समाचार पत्रों की शुरुआत की थी | भारत में सन १७८० में सबसे पहिला समाचार पत्र कोलकता में प्रकाशित किया गया था | जिसका नाम दी बंगाल गैजेट था और इस पत्र का संपादन जेम्स हिक्की ने किया था | उसके बाद समाचार पत्रों का विकास हुआ था |

भारत देश में सबसे पहिला ‘दर्पण’ समाचार पत्र का प्रकाशन हुआ | उसके बाद राजा शिवप्रसाद सितारेहिंद ने बनारस समाचार पत्र की शुरुवात की | इसके बाद देश बहुत सारी पत्रियोंओं को प्रकाशित किया गया था |

हिंदी भाषा में नवभारत टाइम्स, दैनिक ट्रिब्यून, पंजाब केसरी और दैनिक हिंदुस्तान यह सब समाचार पत्र की शुरुवात हो गयी थी |

समाचार के प्रकार

समाचार पत्र के अलग – अलग प्रकार होते है | समाचार पत्रों को साप्ताहिक, दैनिक, वार्षिक, पाक्षिक इत्यादि भाग में विभाजित किया जाता है | अलग – अलग भाषा में भी समाचार पत्र होते है |

हर देश की भाषा भिन्न होती है और अलग – अलग भाषा में समाचार पत्र विकसित होते है | यह एक स्थानिक उद्योग है और सभी लोग इसके साथ जुड़े हुए है |

समाचार पत्रों का विकास

सबसे पहिले देश में समाचार पत्रों का विकास नही हुआ था | समाचार पाने के लिए और भेजने के लिए कबूतरों, घोडा, संदेश वाहक ऐसे बहुत सारे साधनों का उपयोग किया जाता था |

लेकिन जब देश में औद्योगिक क्रांति हो गयी तब से समाचार पत्र छापखाना शुरू हो गया था | धीरे-धीरे समाचार पत्रों का विकास होने लगा | आज के युग में समाचार पत्र राष्ट्रिय और आंतर राष्ट्रिय स्तर पर हर एक के संसार में लाये जाते है |

संचार माध्यम

समाचार पत्र यह एक माध्यम है जो हर किसी व्यक्ति के पास पुरे देश के समाचार पहुचने का काम करता है | समाचार पत्र यह लोगो में जन जागृति का कार्य करता है | इसे देश में बहुत मान्यता है | यह एक संचार माध्यम है जो आज हमारे देश में उपलब्ध है |

निष्कर्ष :

समाचार पत्र यह हमारे जीवन बहुत जरुरी है | इससे हमें पुरे विश्व के समाचारों का ज्ञान मिलता है | समाचार पत्र हर किसी के संसार में प्रभावशाली और शक्तिशाली होते है |

Updated: March 19, 2019 — 9:32 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *