नेताजी सुभाष चन्द्र बोस पर निबंध – पढ़े यहाँ Netaji Subhash Chandra Bose Essay In Hindi

प्रस्तावना:

हमारा देश १५ अगस्त १९४७ को स्वतंत्र हुआ | इस देश को आज़ादी  करने के लिए बहुत सारे स्वतंत्रता सेनानियों का योग दान रहा हैं | उनमें से एक नेताजी सुभाष चन्द्र बोस स्वतंत्रता सेनानी हैं |

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस एक सबसे महान व्यक्ति और बहादुर स्वतंत्रता सेनानी थे | उन्होंने भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया हैं |

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस का जन्म

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस इनका जन्म २३ जनवरी, १८९७ को कटक ( ओड़िसा ) में हुआ था | उनका परिवार एक मध्यमवर्गीय था | उनके पिता का नाम जानकीनाथ और उनके माता का नाम प्रभावती देवी था | उनके पिताजी एक वकील थे |

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस का शिक्षण

उन्होंने अपनी प्राथमिक शिक्षा कटक से ही पूरी की थी | उसके बाद मैट्रिकुलेशन की डिग्री कलकत्ता और उन्होंने बी. ए की डिग्री कलकत्ता यूनिवर्सिटी से प्राप्त की थी |

सन १९१९ में वो आगे की पढाई के लिए इंग्लैंड चले गए | सन १९२० में उन्होंने आय.सी.एस की परीक्षा उत्तीर्ण की थी | सुभाष चन्द्र बोस सन १९२१ में राष्ट्रिय कांग्रेस के सदस्य बने |

जीवन परिचय

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस यह स्वामी विवेकानंद इनसे बहुत प्रभावित थे | उन्होंने लोकमान्य तिलक और अरविंद इनके विचारों को आत्मसात किया था |

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस हमेशा एक उच्च अधिकारी के रूप में देश की सेवा करना चाहते थे | उन्होंने सभी लोगों में राष्ट्रिय एकता, बलिदान और सांप्रदायिक भावना को जागृत किया हैं |

आजाद हिन्द सेना की स्थापना

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस यह एक सच्चे सेनानी थे | उन्होंने भारतीय स्वतंत्र आंदोलन में उनका बहुत बड़ा योगदान हैं | भारत देश को गुलामगिरी से मुक्त करने के लिए और ब्रिटिश शासन से लड़ने के लिए उन्होंने ‘आजाद हिन्द सेना’ की स्थापना की थी |

उन्होंने देश को आज़ादी देने के लिए हिंसक और क्रांतिकारी तरीके की वकालत की | नेताजी सुभाष चन्द्र बोस इन्होने भारतीय राष्ट्रिय कांग्रेस से अलग होकर ‘इंडिया फॉरवर्ड ब्लाक’ की स्थापना की |

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस इनका नारा

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस इन्होंने अपने भारतभूमी को अंग्रेज सरकार से मुक्त कराने के लिए ‘तुम मुझे खून दो, मै तुम्हे आज़ादी दूंगा’ इन महान सब्दों से अपने सभी सैनिकों को प्रेरित किया |

इसकी वजह सभी जाती और धर्मों के लोग अपने देश के लिए खून बहाने के लिए खड़े हो गए और लोगों के मन में सुभाष चन्द्र बोस इनके के लिए श्रद्धा थी | उन्होंने ‘दिल्ली चलो’ यह भी नारा लगाया था |

निष्कर्ष:

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस यह भारत के एक महान स्वतंत्रता सेनानी थे | जिन्होंने इस देश के लिए बहुत संघर्ष किया और भारतीय लोगों को स्वतंत्रता संग्राम के लिए प्रेरित किया |

वो एक महान नेता होने साथ साथ उन्होंने बहुत कड़े संघर्ष के साथ सभी लोग उन्हें नेताजी के नाम से प्रसिद्ध हुए |

उन्होंने देश को आज़ादी प्राप्त करने के लिए बहुत बड़ा योगदान दिया हैं | उनकी याद में हर साल उनके जन्म दिवस पर २३ जनवरी को ‘देश प्रेम दिवस’ के रूप में मनाया जाता हैं |

Updated: April 6, 2019 — 6:03 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *