राष्ट्रभाषा हिंदी पर निबंध कक्षा ४ के लिए – पढ़े यहाँ National Language Hindi Essay In Hindi For Class 4

प्रस्तावना:

हिंदी भाषा यह एक ऐसी भाषा हैं, जो इस भाषा का प्रयोग लोग आसानी से कर सकते हैं | हमारे देश की राष्ट्रभाषा हिंदी हैं | देश में रहने वाले लोग भाषा के अनुसार अपने विचारों को आदान-प्रदान करते हैं |

अंग्रेज सरकार ने सबसे पहले अंग्रेज के द्वारा बहुत सारा काम चलाया गया था लेकिन देश में सबके लिए एक भाषा अस्तित्व में होनी बहुत जरुरी थी | वह भाषा हैं जो हिंदी ही हैं |

राष्ट्रभाषा का अर्थ –

राष्ट्रभाषा का अर्थ होता हैं की, एक ऐसी भाषा होती हैं जिसका उपयोग हर एक मनुष्य आसानी से कर सके,लिख सके और पढ़ सके |

हिंदी दिवस

पुरे देश में १४ सितम्बर को हिंदी दिवस मनाया जाता हैं | सन १९४९ में हमारे भारत के संविधान सभा में एक फैसला लिया की, हमारे देश की राष्ट्रभाषा यह हिंदी होगी |

हमारे देश के राष्ट्रभाषा प्रचार समिति ने १४ सितम्बर को हिंदी दिवस के रूप में फैसला किया | जो आज भी इस दिवस को पुरे धूमधाम से मनाया जाता हैं |

विविध कार्यक्रम

पुरे देश में हर साल १४ सितम्बर को हिंदी दिवस के दिन अन्य कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता हैं | इस दिन स्कूल, कॉलेज सरकारी संस्था इत्यादि. अन्य जगहों पर हिंदी दिवस के कार्यक्रम रखे जाते हैं | हिंदी दिवस के दिन स्कूल और कॉलेज में निबंध स्पर्धा, लेखन, वाद-विवाद इत्यादि. स्पर्धा रखी जाती हैं |

इस दिन सरकार ऐसे लोगों को पुरस्कार प्रदान करती हैं जिन लोगों ने इस हिंदी दिवस के बारे में लोगों – लोगों में प्रसार और प्रचार किया हैं और इसके लिए अपना कीमती समय देश के लिए लगा दिया हैं |

हिंदी भाषा की विशेषता

मनुष्य हिंदी भाषा का एक मुख्य गुण हैं की, यह भाषा लिखने, पढने और बोलने के लिए बहुत सरल हैं | इस भाषा को संस्कृत की बड़ी बेटी भी कहा जाता हैं | यह भाषा लिपि के अनुसार चलती हैं | इस भाषा में जैसा लिखा जाता हैं वैसा ही बोला जाता हैं |

मुख्य विशेषता

इस भाषा की मुख्य विशेषता यह है की, इस भाषा में सभी भाषाओँ के शब्द मिल सकते है | हिंदी भाषा का साहित्यिक रचना भी बहुत बड़ी हैं | इस भाषा में सभी लोगों में एकता लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई हैं | विद्वानों ने भी देश में एकता और संगति को हिंदी भाषा का समर्थन किया हैं |

हिंदी दिवस मनाने का हेतु

हमें हिंदी भाषा का विकास करना हैं, तो अन्य भाषाओं को छोड़कर अपनी इस हिंदी भाषा को अपनाना हैं | जो हिंदी में अच्छे कार्य और इसका अच्छे तरीके से उपयोग करता हैं उसे सन्मानित किया जाता हैं |

आज भी हमारे देश हिंदी के बदले इंग्लिश भाषा को बोला जाता हैं | आज के युग में भी हिंदी भाषा सबसे पीछे रह गयी हैं | इसका कारण मनुष्य को ऊँचा पद पाने के लिए अंग्रेजी भाषा का उपयोग करने लगे हैं | उनको यह लगता हैं की, अंग्रेजी नही रहेगी तो देश पीछे रह जायेगा |

निष्कर्ष:

हिंदी यह एक राष्ट्रभाषा और संपर्क की भाषा हैं | हम सभी को राष्ट्र भाषा का सम्मान करना चाहिए | हमारे में देश अन्य जाती और अन्य धर्म के लोग रहते हैं उनका रहना, खाना – पीना यह सब अलग- अलग हैं लेकिन हमारी राष्ट्रभाषा केवल एक ही हैं |

Updated: April 1, 2019 — 11:05 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *