मेरा विद्यालय पर निबंध -पढ़े यहाँ My School Essay In Hindi

प्रस्तावना :

हर एक विद्यार्थी इस क्षेत्र में आकर बहुत सारा ज्ञान प्राप्त करता है | जब हर बच्चा जन्म लेता है तो उसको जन्म से ही ज्ञान प्राप्त नही होता है |

जन्म लेने के बाद उसे माता पिता अच्छे संस्कार और ज्ञान देकर बड़ा करते है | उसके बाद वो विद्यालय में प्रवेश करता है | इस मानव जीवन को अच्छा बनाने का कार्य विद्यालय का होता है |

विद्यालय का अर्थ –

Essay On My School in Hindi

विद्यालय यह शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है – विद्या+आलय | इस विद्यालय का अर्थ होता है | ज्ञान को प्राप्त करने का निवास |

हर एक बच्चा शिक्षा प्राप्त करने के लिए विद्यालय में जाता है | मै भी शिक्षा ग्रहण करने के लिए स्कूल में जाती हु | मेरा विद्यालय एक स्वच्छ और सुंदर विद्यालय है | मेरे विद्यालय में सभी जाती और धर्म के बच्चे पढने आते है | मेरा विद्यालय सबसे बड़ा है |

विद्यालय की रचना

Essay On My School in Hindi

मेरा विद्यालय दो जगह पर स्थित है | यह एक दो मंजिला का है | मेरे विद्यालय के आगे एक बहुत बड़ा मैदान है | उस मैदान में सभी बच्चे शाम के समय अन्य प्रकार के खेल खेलने जाते है | मेरे विद्यालय के सामने एक बहुत बड़ा बगीचा भी है |

उस बगीचे में अन्य प्रकार के फूलों के पौधे लगाये हुए है | और विद्यालय के आसपास आम के पेड़ भी है | मेरे विद्यालय के थोड़ी दूरी पर एक मंदिर भी है | मेरा विद्यालय बहुत सुंदर है | मेरे स्कूल में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन भी किया जाता है | इस विद्यालय में राष्ट्रिय त्योहार भी मनाये जाते है |

कार्य पद्धती

मेरे विद्यालय में शिक्षक और शिक्षिका कार्य करती है | उसमे एक मुख्य है – प्राचार्य | शिक्षक और शिक्षिका का से भी ज्यादा प्राचार्य को महत्त्व का स्थान मिलता है | इन सभी शिक्षकों का मुख्य उद्देश होता है की, सभी बच्चो का भविष्य उज्जवल करना

मेरे विद्यालय में सभी बच्चो को हर एक विषय का शिक्षा दी जाती है | किसी भी विद्यार्थी को कुछ शंका रहे तो वो अपने अध्यापक को पूछ सकता है |

निष्कर्ष :

सभी बच्चो को अपना विद्यालय बहुत अच्छा लगता है | मेरा विद्यालय सबसे अच्छा और सुंदर विद्यालय है | मुझे मेरे विद्यालय पर बहुत गर्व है की, मै अच्छे विद्यालय में पढ़ती हु |

विद्यालय में अच्छी शिक्षा प्राप्त होती है और अपने जीवन में सफलता पाने के लिए एक अच्छे स्कूल की बहुत जरुरी होती है |

Updated: March 19, 2019 — 1:03 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *