मेरा विद्यालय पर निबंध कक्षा ४ के लिए – पढ़े यहाँ My School Essay In Hindi For Class 4

प्रस्तावना:

हर एक व्यक्ति को अपने जीवन को सफल बनाने के लिए विद्यालय सबसे महत्वपूर्ण स्थान होता हैं | किसी भी व्यक्ति को जन्म से शिक्षा या ज्ञान प्राप्त नहीं होता हैं बल्कि उसे विद्यालय में जाकर ही ज्ञान प्राप्त हो सकता हैं |

स्कूल यह बच्चों का दूसरा घर होता हैं | विद्यालय को ही ज्ञान का मंदिर कहाँ जाता हैं | यह एक ऐसी जगह हैं, जो जहाँ पर ज्ञान और कौशल का विकास होता हैं | विद्यालय से व्यक्ति बहुत कुछ सीखता हैं |

मेरा विद्यालय

मेरा विद्यालय यह सबसे बड़ा और भव्य विद्यालय हैं | मेरे विद्यालय का नाम शारदा विद्यामंदिर स्कूल हैं | यह एक आदर्श विद्यालय हैं | इसकी ईमारत चार मंजली और लाल रंग की हैं |

मुझे अपने स्कूल में स्कूल ड्रेस पहनकर जाना बहुत अच्छा लगता हैं | मेरे विद्यालय की टीचर बहुत दयालु और अनुशासन में रहने की सीख देती हैं |

मेरे विद्यालय के मुख्य गेट के करीब दो छोटे से बगीचे हैं | बगीचे में अन्य प्रकार के पेड़ – पौधे और फुल हैं | बगीचे में घास युक्त मैदान भी हैं |

विद्यालय का समय

मेरा विद्यालय थोड़ी दूरी पर होने के कारण मैं हर दिन चलकर जाता हूँ | मेरा स्कूल सुबह १० बजे से शाम के ५ बजे तक होता हैं | गर्मी के मौसम में मेरा विद्यालय सुबह ७ बजे से 12 बजे तक ही चलता हैं |

पुस्तकालय

हमारे विद्यालय में एक बहुत बड़ा पुस्तकालय भी हैं | यहाँ पर सभी विद्यार्थियों के लिए अन्य प्रकार की पुस्तके उपलब्ध हैं | हम हर दिन थोड़े समय के लिए पुस्तकालय में जाते हैं |

वहाँ पर जाकर हम रचनात्मक या मनोरंजनात्मक किताबे पढ़ते हैं | जिसकी वजह से सामान्य को विकसित करने में सहायता मिल जाती हैं |

खेल का मैदान

मेरे विद्यालय के सामने खेल का मैदान हैं | इस मैदान में हम सभी शाम के समय अन्य प्रकार के खेल खेलते हैं | जैसे की क्रिकेट, खो – खो, कबड्डी, बास्केट बॉल इत्यादि| मेरे विद्यालय के प्रधानाचार्य हमें अनुशासन और स्वच्छता के प्रति काफी गंभीर रहते हैं |

विद्यालय की विविधता

Essay On My School in Hindiमेरे विद्यालय का वातावरण बहुत अच्छा हैं | जहाँ पर प्राकृतिक सुंदरता और हरियाली उपलब्ध हैं | मेरे विद्यालय कके सामने एक आँगन हैं | यहाँ हर दिन हम सभी प्रार्थना के लिए जुटते हैं |

उसके बाद हम सभी अपने अपने कक्षा में जाते हैं | मेरे विद्यालय में मराठी, गणित, अंग्रेजी, भूगोल, इतिहास, कला इ विषयों के लिए अलग – अलग शिक्षक हैं |

मेरे विद्यालय के परिसर में लेखन सामग्री का दुकान हैं | कैंटीन की भी सुविधा उपलब्ध हैं | मेरे विद्यालय में हर साल में वार्षिक कार्यक्रम आयोजित किया जाता हैं |

निष्कर्ष:

मेरा विद्यालय मुझे बहुत अच्छा लगता हैं | मेरा विद्यालय मुझे मंदिर की तरह पवित्र स्थान लगता हैं | मुझे गर्व हैं की, मैं एक अच्छे और आदर्श विद्यालय में पढता हूँ |

Updated: May 17, 2019 — 5:20 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *