मेरा अच्छा दोस्त पर निबंध ४०० शब्दों में – पढ़े यहाँ My Good Friend Essay In Hindi 400 Words

प्रस्तावना:

हर किसी के जीवन में एक अच्छा दोस्त होना बहुत जरुरी हैं | दोस्ती हर किसी के जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं | दोस्ती एक प्यार, स्नेह और सम्मान की भावना होती हैं | एक दोस्त के बिना जीवन अधुरा हैं |

एक अच्छा दोस्त अपनी सारी बाते बताता हैं और हमारे सुख – दुःख में हमेशा साथ देता हैं | अगर हम मुश्किल में फंसे हैं तो हमारी सहायता करता हैं |

मेरा अच्छा दोस्त

सौरभ मेरा सबसे अच्छा दोस्त हैं | बचपन से ही हम दोनों एक ही कक्षा में पढ़ते आए हैं | सौरभ यह एक आदर्श विद्यार्थी हैं | वह कक्षा में सबसे आगे हैं | वो अपने कक्षा में कभी झगडा नहीं करता हैं |

जब हम दोनों स्कूल से घर आते थे तो हम दोनों हमारे घर पर एक साथ पढ़ते और खेलते थे | उसकी माँ भी मुझे बहुत प्यार करती हैं |

सौरभ का परिवार

सौरभ के परिवार में उसके माता – पिता और एक छोटी बहन रहती हैं | सौरभ के पिता एक वकील हैं | सौरभ अपनी पापा की तरह एक वकील बनना चाहता हैं |

उसकी माता एक अच्छी  गृहिणी हैं | सौरभ अपना सपना पूरा करने के लिए बहुत कड़ी मेहनत करता हैं |

सर्वोच्च खिलाडी

सौरभ यह एक बहुत अच्छा लड़का हैं | वो हमेशा कक्षा में सबसे प्रथम आता हैं | सौरभ को पढाई के साथ – साथ खेलों में भी बहुत रूचि हैं | उसको शतरंज यह खेल बहुत पसंद हैं |

सौरभ हमारे स्कूल का शतरंज का सर्वोच्च खिलाडी हैं | सौरभ ने शतरंज के खेल में हमारे स्कूल का नाम अनेक बार रोशन किया हैं |

आज्ञाकारी लड़का

सौरभ यह एक आज्ञाकारी और सहनशील लड़का हैं | वो हमेशा बड़ों की बात मानता हैं | वो हमेशा सत्य बोलता हैं और झूठ से नफरत करता हैं |

उसके पास इतने सारे गुण होने के बावजूद भी उसके मन में कोई घमंड नहीं हैं | सौरभ हमारे स्कूल में सबसे लोकप्रिय हैं | वो बहुत हंसमुख और मनोरंजक स्वाभाव का हैं | सौरभ हमेशा बड़ों का सम्मान करता हैं और दूसरों की मदद करता हैं |

चित्रकला का शौक

सौरभ को चित्र बनाना बहुत पसंद हैं | वो बहुत अच्छा चित्र बनाता हैं | उसके बनाए हुए चित्र मुझे बहुत अच्छे लगते हैं | उसने बनाए हुए कई चित्र मैंने अपने घर के दीवार पर भी लगाए हैं | सौरभ ने कई बार चित्रकला के प्रतियोगिता में पुरस्कार भी प्राप्त किया हैं |

सौरभ की बाते मुझे बहुत प्रेरित करती हैं | वो हमेशा मुझे कहता हैं की, अपने जीवन में आगे जाकर उस लोगों के लिए कुछ अच्छा काम करना चाहिए |

निष्कर्ष:

मुझे विश्वास हैं की, हमारी दोस्ती सदैव बनी रहेगी | हमारी दोस्ती कभी खत्म नहीं होगी | मेरा दोस्त सही मायने में वो एक पुत्र, भाई आदर्श छात्र और आदर्श मित्र भी हैं | मुझे अपने दोस्त पर गर्व हैं | कहा जाता हैं की, एक सच्चा मित्र भगवान से दिया हुआ एक अमूल्य उपहार होता हैं |

Updated: May 21, 2019 — 6:54 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *