मेरा प्रिय खिलौना पर निबंध – पढ़े यहाँ My Favorite Toy Essay In Hindi

प्रस्तावना:

हर एक बच्चे को खिलौने बहुत पसंद होते हैं | उसे देखते ही बच्चे बहुत खुश हो जाते हैं | इसलिए हर किसी का अपना – अपना पसंद का खिलौना होता हैं | उसी तरह से रिमोट से चलने वाली कार यह मेरा सबसे प्रिय खिलौना हैं |

प्रिय खिलौना कार

मुझे मेरे जन्मदिवस पर मेरे चाचा ने मुझे रिमोट से चलने वाली कार गिफ्ट दी थी | मेरे जन्मदिवस पर बहुत सारे खिलौने आये थे | लेकिन मेरे चाचा ने मुझे यह कार दी थी तब मै ज्यादा खुश नहीं हुआ था |

लेकिन उसके बाद मुझे बताया गया की यह रिमोट से चलती हैं | तब मुझे बहुत ख़ुशी हो गयी | यह कार रिमोट पर लगाये हुए बटन से चलती हैं | इस कार का रंग पिला हैं | यह कार मुझे बहुत सुंदर लगती हैं |

कार की रचना

यह कार प्लास्टिक से बनी हुई हैं और इसका वजन बहुत हल्का हैं | इस कार में दो हैड लाइट हैं | मेरे कार में बैठने के लिए दो आगे और दो पीछे सीट हैं | यह कार बहुत तेजी से चलती हैं |

मेरी कार एक अदभुत कार हैं | इस रिमोट से चलने वाली कार की बैटरी चार्ज वाली हैं | इस कार को दूर से देखने से असली कार की तरह दिखती हैं |

पसंदीदा खिलौना

मैं सुबह में स्कूल जाता हूँ और 12 बजे स्कूल से आता हूँ | स्कूल से घर आते ही मैं इस कार से खेलना शुरू कर देता हूँ | मैं शाम के समय पढाई करने के बाद रिमोट वाली कार से खेलता था |

जब मैं अन्य प्रकार के खिलौने से खेलता हूँ तो मैं बोर हो जाता हूँ | मुझे इस कार से खेलना बहुत पसंद हैं | मेरे दोस्त छुट्टी के दिन मेरे घर पर आते हैं |

जब मुझे रविवार को छुट्टी रहती हैं, तब मै अपने दोस्तों के साथ इस कार से खेलता हूँ | लेकिन मेरे मम्मी – पापा मुझे छुट्टी के दिन खेलने नहीं देते हैं | वो मुझे खलने से रोकते हैं | मैं अपनी कार को किसी को नहीं देता हूँ |

लेकिन बहुत दिनों के बाद मेरी कार ख़राब हो गयी | उसकी जगह पर मुझे मेरे पापा ने दूसरी कार लाके दी थी | लेकिन यह कार मुझे सबसे पसंद थी |

निष्कर्ष:

रिमोट से चलने वाली कार यह मेरा सबसे प्रिय खिलौना था | मुझे यह कार बहुत पसंद लगती थी |

Updated: May 17, 2019 — 5:38 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *