मेरे पिता पर निबंध कक्षा १ के लिए – पढ़े यहाँ My Father Essay In Hindi For Class 1

प्रस्तावना:

इस दुनिया में माता – पिता यह दोनों सबसे महत्वपूर्ण हैं | एक पिता जिसने अपने जीवन में कोई संघर्ष नहीं कर सकता हैं | अगर अपने जीवन में होना हैं तो अपने पिता से सीखा जा सकता हैं |

पिता ही जो होते हैं सभी मुश्किलों का सामना करके अपने परिवार को खुश देखना चाहते हैं | पिता का पूरा जीवन कष्टों से भरा होता हैं |

परिवार की जिम्मेदारी

मेरे पिता मेरे लिए एक आदर्श पिता हैं | उनमे बहुत सारी योग्यताएं हैं जो महान पिता में होती हैं | वो सिर्फ मेरे लिए एक पिता ही नहीं हैं बल्कि वो मेरे एक अच्छे दोस्त भी हैं |

वो हमेशा मुझे यही सीख देते हैं की, अपने जीवन में हमेशा आगे बढना चाहिए | पिता यह एक अच्छे मार्गदर्शक भी होते हैं | इस संसार का हर एक बच्चा अपने पिता से सारे गुण सीख जाता हैं |

एक पिता ही परिवार की जिम्मेदारी उठा सकते हैं | वो हमेशा अपनी ख़ुशी को नजर अंदाज करके परिवार के ख़ुशी के बारे में हमेशा सोचते हैं |

जीवन में महत्व 

मेरे पिताजी एक बहुत अच्छे इंसान हैं | वो हमेशा दिन – रात बहुत मेहनत करते हैं | वो सुबह से शाम तक बहुत कष्ट करते हैं | आज उनकी वजह में आज अच्छी शिक्षा प्राप्त कर पा रहा हूँ |

वो अपनी आर्थिक परिस्थिति के कारण ज्यादा पढ़ नहीं पाए | लेकिन उन्हें लगता हैं की, मेरे बच्चे अपने जीवन में आगे बढ़ सके | इसलिए वो हमेश चाहते हैं की, मैं अपने जीवन में आगे बढ़कर एक अच्छा व्यक्ति बन सकू |

मेरे पिताजी ने मुझे हमेशा सत्य की राह पर चलने की सीख दी हैं | और हमेशा दूसरों की सहायता करने के लिए सिखाया हैं |

धैर्य

मेरे पिताजी हमेशा कोई भी कार्य धैर्य से करते हैं | वो सोच समझकर ही अपने जीवन में आगे बढ़ते हैं | बहुत सारे मुश्किलों का वो हिम्मत से सामना करते हैं |

अनुशासन

मेरे पिताजी हमेशा से अनुशासन में रहकर हर एक कार्य करते हैं | पिताजी हमें अनुशासन में रहना सिखाते हैं | सुबह से रात तक वो अपना हर एक कार्य अनुशासन में रहकर पूरा करते हैं | वो मुझे हर दिन बगीचे में घुमाने के लिए लेके जाते हैं |

नियंत्रण

मेरे पिताजी मुझे हमेशा अपने आप पर नियंत्रण रखने के लिए कहते हैं | वो परिवार के किसी भी व्यक्ति पर गुस्सा नहीं निकालते हैं | मेरे पिताजी ने मुझे यही सीख दी हैं की, कुछ भी हो जाये लेकिन अपने आप पर से नियंत्रण कभीं नहीं खोना चाहिए |

मेरे पिताजी परिवार के सभी लोगों से बहुत प्यार करते हैं | वो परिवार के किसी भी व्यक्ति को किसी भी वस्तु की कमी नहीं होने देते |

निष्कर्ष:

हम सभी को अपने माता – पिता को कभी भूलना नहीं चाहिए | क्योंकि आज हमें जितनी सफलता प्राप्त की हैं वो उनके सघर्ष और विचारों का फल हैं |

Updated: May 14, 2019 — 7:01 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *