मातृ दिवस पर निबंध – पढ़े यहाँ Mother’s Day Essay In Hindi

प्रस्तावना :

हर बच्चे के दिल में माँ के लिए बहुत खास जगह होती हैं | हर एक माँ अपने बच्चे का अच्छे से और हर चीज का ख्याल रखती हैं | माँ को जननी कहा जाता हैं और माँ को भगवान कहा जाता |

सभी लोग अपने माँ को भगवान के रूप मानते हैं | माँ के बिना जीवन जीना आसान नही हैं | हर संसार में माँ का महत्व ज्यादा हैं | माँ की तुलना किसी से भी नही की जा सकती हैं |

मातृ दिवस शब्द का अर्थ –

मातृ और दिवस शब्दों से मिलकर बना हैं जो मातृ का अर्थ होतो माँ और दिवस का अर्थ होता हैं दिन यानि मातृ दिवस |

मातृ दिवस

यह दिवस मनाने की शुरुवात सबसे पाहिले ग्रीस देश में हुई थी | उस देश में देव् देवताओं की माँ की पूजा की जाती थी | उसके बाद इस मातृ दिवस को त्योहार के रूप में मनाया जाने लगा |

दुनिया हर माँ अपने बच्चे को अपना पूरा जीवन समर्पित करती हैं | माँ का त्याग बहुत बड़ा होता हैं | लेकिन हर बच्चे को अपनी माँ का सम्मान करना हमारा कर्तव्य हैं ं |

कार्यक्रम

पुरे विश्व में मातृ दिवस 12 मई को मनाया जाता हैं | इस दिन सभी माँ को स्कूल में, विद्यालयों में बुलाया जाता हैं | शिक्षक वर्ग मातृ दिवस के दिवस पर बहुत सारी “तैयारी” करते हैं | मातृ दिवस यह त्योहार बहुत उत्साह में मनाया जाता हैं |

इस दिन बच्चे माँ के स्वागत के लिए कक्षा को सजाके मातृ दिवस मनाते हैं | मातृ दिवस के दिन स्कूल बहुत सारे कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता हैं |

मातृ दिवस के दिन निबंध लेखन, कविता, भाषण इत्यादि . की तैयारी करते हैं | कई स्कूल में बच्चो के द्वारा माताओं को ग्रीटिंग कार्ड और विशिंग कार्ड भी दिए जाते हैं |

निष्कर्ष

हर इंसान का अस्तित्व माँ ही होती हैं | मनुष्य जन्म लेकर ही धरती पर आता हैं उसके बाद माँ अपने बच्चे को संस्कार देने का कार्य करती हैं | जैसे की एक पेड़ को जमीन में लगाते उसके बाद उसको पानी और अन्य चीजे देते हैं | तब वो पेड़ बड़ा होता हैं | वैसे ही माँ अपने बच्चे को जन्म देकर उसका पालन पोषण करती हैं | इसलिए मातृ दिवस मनाना बहुत आवश्यक हैं |

Updated: March 14, 2019 — 5:58 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *