कमल पर निबंध – पढ़े यहाँ Lotus Essay In Hindi

प्रस्तावना:

अन्य सभी फूलों में से कमल यह फुल सबसे सुंदर फुल हैं | कमल फुल हमारे देश का राष्ट्रीय फुल हैं | इस फुल को पवित्र माना जाता हैं | यह भारतीय संस्कृति का प्रतिक माना जाता हैं | कमल फुल को वैज्ञानिक भाषा में (नेलुम्बो नुसिफेरा) इस नाम से जाना जाता हैं | इस फुल का उपयोग भारत की कलां में किया गया हैं |

कमल फुल का रंग

कमल भारत देश में ज्यादा तो दो रंगों में पाया जाता हैं – सफ़ेद और गुलाबी | कमल फुल अन्य रंगों में भी पाया जाता हैं | जैसे की – सफ़ेद, पिला, जामुनी और निला इत्यादि, इस फुल का आकर बहुत बड़ा होता हैं |

यह फुल मूल रूप से भारत देश में पाया जाता हैं लेकिन आज विदेशों में भी पाया जाता हैं | कमल यह फुल तालाब और जलाशयों में खिलता हैं | कमल फुल कीचड़ के बिच में रहकर खिलता हैं |

कमल फुल की रचना

इस फुल का व्यास 1-३ मीटर तक होता हैं | कमल फुल के पत्ते गोलाकार होते हैं और बड़े होते हैं | इस फुल की पत्तियों का कुछ भाग पानी में डूबा रहता हैं |

कमल फुल के पौधे मार्च महीने के शुरू में अगस्त के अंत तक खिलते हैं | यह फुल सूर्य किरणों के प्रकाशित होने से खिलता हैं और शाम के समय मुरझा जाता हैं | यह फुल तीन दिन तक रह सकता हैं |

धन और ज्ञान का प्रतीक

इस फुल को प्राचीन काल से पवित्र माना गया हैं | कमल फुल पर लक्ष्मी माता विराजमान हुई हैं इसलिए इस फुल को धन और ज्ञान का भी प्रतिक माना जाता हैं | कमला पर ब्रह्मा के साथ साथ देवी शारदा भी विराजमान हुई थी |

इसलिए इस फुल का विशेष महत्व हैं | इस फुल को पूजा में ज्यादा महत्व दिया गया हैं | प्राचीन समय में राजा – महाराजा अपने बालों को काला रखने के लिए इस फुल का उपयोग करते थे |

कमल फूल की सुंदरता

यह फुल दिखने में बहुत सुंदर दिखता हैं और सभी को आकर्षित कर देता हैं | इस फुल का उपयोग सजावट में भी किया जाता हैं |

गुलाबी रंग का फुल हमारे देश का ‘राष्ट्रीय फूल’ के रूप में माना गया हैं | यह बहुत मनमोहक और उपयोगी फुल हैं | इस फुल का उपयोग दवाई बनवाने के लिए किया जाता हैं | यह फुल कीचड़ में उगने से और इसकी सुंदरता के कारण इसे संस्कृति और काव्य में भी मुख्य स्थान हैं |

निष्कर्ष:

इस फुल को हमारे देश में बहुत महत्व हैं | यह एक सुंदर फुल होने के साथ-साथ इसका का प्रयोग अन्य चीजों के लिए भी किया जाता हैं |

कमल फुल बहुत सुंदर और मनमोहक हैं | इस फुल को कोरिया, जपान और चीन में इसकी सुंदरता और कोमलता के कारण ‘लोटस फेस्टिवल’ के रूप में मनाया जाता हैं |

Updated: April 3, 2019 — 10:17 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *