लोहडी पर निबंध – पढ़े यहाँ Lohri Essay In Hindi

प्रस्तावना:

हमारा देश यह त्योहारों का देश माना जाता हैं | इस देश में अलग अलग प्रकार के त्यौहार मनाये जाते हैं | इन अन्य त्योहारों में से लोहड़ी यह पंजाब राज्य का मुख्य त्यौहार हैं |

यह त्यौहार पंजाब में पुरे धूमधाम से मनाया जाता हैं | लोहड़ी यह त्यौहार पंजाबी लोगों के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता हैं |

लोहड़ी त्यौहार

लोहड़ी यह त्यौहार माघ माह की मकर संक्रांति के एक दिन पहले रात में मनाया जाता हैं | यह त्यौहार मुख्यत: पंजाब का पर्व हैं | लोहड़ी यह त्यौहार पंजाब के साथ – साथ हरियाणा राज्य में भी मनाया जाता हैं |

लोहड़ी त्यौहार की महत्व 

लोहड़ी का त्यौहार किसानों के लिए खास महत्व रखता हैं | इस त्यौहार को किसानों की फसल काटने पर मनाया जाता हैं |

लोहड़ी यह त्यौहार रबी फसल की कटाई के मौसम में और सर्दी के मौसम के अंत के अवसर पार मनाया जाता हैं | इस दिन किसान फसल काटने से पहले भगवान से प्रार्थना करते हैं और उन्हें धन्यवाद देते हैं |

मुख्य भोजन

पंजाब के लोग लोहड़ी पर्व के दिन सरसों का साग, मक्के की रोटी, तिल, रेवड़ी, रजक इत्यादि, का भोजन करते हैं | उसके साथ साथ बाजरे की रोटी भी खाई जाती हैं |

लोहड़ी का त्यौहार 

लोहड़ी के कुछ दिन पहले छोटे बच्चे गीत गाकर लोहड़ी के लिए लकडिया, मेवे, रेवडिया, मूंगफली इत्यादि, चीजे इकट्ठा करने लगते हैं | लोहड़ी के दिन आग जलाई जाती हैं |

वहाँ के लोग आग के चारों तरफ चक्कर काटकर नाचते, गाते और आग में रेवडी, मूंगफली, खील, मक्के के दानों की आहुति देते हैं | रेवड़ी और मक्की यह प्रसाद के रूप में भी दिया जाता हैं |

लोहड़ी देवी संबंधित

ऐसा माना जाता हैं की, लोहड़ी देवी ने एक क्रूर राक्षस को जलाकर भस्म कर दिया था | उसकी याद में यह दिन मनाया जाता हैं |

इस त्यौहार को मनाने का मुख्य उद्देश किसानों से जुड़ा हुआ हैं | इस दिन सभी लोग अपने सभी दुखों को भुलकर ख़ुशी की नई सुरुवात करते हैं |

निष्कर्ष:

लोहड़ी यह त्यौहार सभी लोगों के प्रेम और भाईचारे का त्यौहार हैं | इस दिन सभी लोगो को अपने सुख दुख को भूलकर नए जीवन की शुरुवात करते हैं | यह त्यौहार सभी लोगों में प्रेम और भाईचारे को बढ़ावा देता हैं |

लोहड़ी यह त्यौहार सभी को एकता का संदेश देता हैं | यह पंजाब के लोगों का मुख्य त्यौहार हैं | इस त्यौहार को बहुत ख़ुशी के साथ मनाया जाता हैं |

Updated: April 6, 2019 — 7:47 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *