खेल के महत्व पर निबंध – पढ़े यहाँ Khelo Ka Mahatva in Hindi Essay

प्रस्तावना :

मानव जीवन में खेल का महत्व अधिक है | खेल शिक्षा का एक आवश्यक अंग भी है | शरीर और मस्तिष्क के विकास के लिए खेल जरुरी है | शारीरिक गतिविधियों में शामिल होने के लिए सबसे अच्छा तरीका खेल है | खेल को बहुत से देशों में अधिक महत्व दिया जाता है | क्योंकि खेल एक व्यक्ति के जीवन में खेल के वास्तविक लाभ, व्यक्तिगत और पेशेवर जीवन में इसकी आवश्यकता को जानते हैं |

लोगों द्वारा आकस्मिक या संगठित भागीदारी के माध्यम से की जाने वाली प्रतिस्पर्धा खेल गतिविधियों को हम खेल बोल सकते हैं | यह सभी शारीरिक क्षमता और कौशल को सुधारनें और बनाये रखने में मदद करता है | यह प्रतिभागियों के लिए मनोरंजन का एक तरीका है | स्वस्थ जीवन और सफलता के लिए किसी भी व्यक्ति के लिए शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य की आवश्यकता होती है |

खेल को किसी भी उम्र के लोग खेल सकते हैं | विश्व में खेल का महत्व आज से नहीं है | इसका मूल्य व्यक्ति के जीवन में समझाने का प्रयास किया गया है | खेल व्यक्ति के शारीरिक और मानसिक विकास में मदद करता है और किसी भी तनावपूर्ण स्थिति को दूर करने में सहायक रूप बनता है |

किसी भी सफल व्यक्ति को स्वास्थ्य शरीर होना बहुत ही जरुरी है | व्यक्ति की मानसिक विकास का शुरुआत स्कूल के दिनों से ही प्रारंभ हो जाती है | खेल से हमारा स्वास्थ्य तो बनता ही है साथ ही नाम, प्रसिद्धि भी दिलाता है |

भारत में शायद ही कोई ऐसा होगा जो महेंद्र सिंह धोनी, सचिन तेंदुलकर, विराट कोहली, रोहित शर्मा, सानिया मिर्जा, साइना नेहवाल से परिचित ना हो | इन सभी खिलाडियों के नाम को आदर और सम्मान के साथ लिए जाते हैं |

भारत में विभिन्न प्रकार के खेल खेले जाते हैं उसमें से कुछ प्रसिद्द खेल और खिलाडियों के नाम हैं |

  • हॉकी – धनराज पिल्लै, मेजर ध्यानचंद
  • क्रिकेट – सौरव गाँगुली, विराट कोहली
  • लॉन टेनिस – सानिया मिर्जा
  • कुश्ती – सुशिल कुमार

खेलने-कूदने से व्यक्ति स्वस्थ और दीर्घायु होता है | नियमित व्यायाम करने से किसी भी प्रकार की बीमारियां नहीं होती है | खेल को भारतीय संस्कृति एवं एकता का प्रतिक भी कहा जाता है |

क्योंकि खेल को किसी भी धर्म का व्यक्ति खेल सकता है | खेलों के माध्यम से पुरस्कार भी प्राप्त किया जाता है | भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान (भारत रत्न ) सचिन तेंदुलकर को खेलों के कारण ही मिला |

खेलों को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा भी प्रोत्साहन आउट इनाम का प्रबंधन किया गया है | जिसमें खिलाडी जब देश के लिए खेलकर देश का नाम रोशन करता है | खेल चाहे किसी भी प्रकार का खेला जाए बस सच्चे मन से खेला जाए तो उसमें सफलता जरूर मिलती है |

Updated: February 1, 2020 — 9:49 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *