आतंकवाद पर निबंध – पढ़े यहाँ Hindi Essay On Terrorism

प्रस्तावना:

आतंकवाद यह विश्व की सबसे बड़ी समस्या है | आतंकवाद यह एक राष्ट्रीय और आंतरराष्ट्रीय समस्या बन चुकी हैं | यह एक विश्व व्यापक समस्या हैं जिसने सभी देशों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से प्रभावित किया हैं |

बहुत सारे देशों को आतंकवाद का सामना करना पड़ रहा हैं | उसी तरह से हमारा भारत देश यह विविधता वाला देश हैं | इस देश में अन्य जाती और धर्म के लोग मिलजुलकर रहते हैं |

लेकिन कई लोग इस एकीकरण को देखकर जलने लगते हैं | वो इस देश के एकीकरण को तोड़ने की कोशिश करते हैं |

आतंकवाद की परिभाषा

आतंकवाद यह शब्द दो शब्दों से बना हुआ हैं – आतंक + वाद | आतंक का अर्थ होता हैं – भय या डर और वाद का अर्थ होता हैं पद्धती | आतंकवाद का अर्थ होता हैं, किसी भी विनाशकारी शक्ति के द्वारा समाज में डर की स्थिति निर्माण करना |

आतंकवाद का मुख्य उद्देश

आतंकवाद का मुख्य उद्देश्य यह होता है की, सरकार और देश के लोगों में भय की स्थिति उत्पन्न करना | आतंकवाद लोगों का कोई देश, राज्य, जाती और धर्म नहीं होता हैं |

आतंकवाद का मुख्य लक्ष्य आतंक फैलाना होता हैं | आतंकवादी लोग बच्चों, स्त्रियों, बूढों और जवान लोगों की हत्या कर देते हैं |

आतंकवाद के प्रकार

आतंकवाद के दो प्रकार होते हैं – राजनीतिक आतंकवाद और अपराधिक आतंकवाद |

राजनीतिक आतंकवाद

राजनीतिक आतंकवाद वह होता हैं, जो अपने स्वार्थ को पूरा करने के लिए लोगों में भय निर्माण कर देता हैं |

अपराधिक आतंकवाद

अपराधिक आतंकवाद वह होता हैं, जो लोगों का अपहरण करके पैसे की मांग करते हैं |

आतंकवाद की समस्या

देश में आतंकवाद की समस्या यह सबसे बड़ी समस्या हैं | किसी भी देश में आतंकवाद फ़ैलाने के लिए हिंसात्मक तरीके अपनाये जाते हैं | जिसके कारण देश के विकास के लिए कोई कार्य नहीं कर पाता हैं |

जब हमारा भारत देश विकास करने लगता हैं तो कुछ विदेशी शक्तियां भारत के विकास से जलने लगती हैं | वो भारत के लालची लोगों को पैसा देकर दंगे – फसाद करवाती हैं |

ज्यादातर आतंकवादी लोग पटरियों को उखाड़कर, बस के यात्रियों को मारकर, बैंकों में लुट करके, सार्वजनिक स्थानों पर बम्ब फेककर इ सभी कार्यों से आतंकवाद फैलाते हैं |

आतंकवाद रोकने के उपाय

आतंकवाद यह समाज और देश को लगा हुआ एक कलंक हैं | आतंकवाद यह किसी के लिए भी लाभयुक्त नहीं हैं | आतंकवाद के कारण बहुत मनुष्य हानी हो जाती हैं |

पता नहीं आतंकवाद कितने बच्चों को अनाथ बना देते हैं और कितनी औरतों को विधवा कर देते हैं और बहुत सारे लोगों को बेसहारा बना देते हैं | इसे रोकने के लिए सरकार को कठोर कारवाई करनी चाहिए | उसके साथ – साथ सभी लोगों को भी प्रयास करना चाहिए |

निष्कर्ष:

हमारे भारत भूमि यह शांति और अहिंसा की जन्म भूमि हैं | इस भूमि पर महात्मा गाँधी जैसे मानवता प्रेमियों का जन्म हुआ हैं | आतंकवाद जैसी समस्या को दूर करने के लिए सभी लोगों को संगठित होकर ईंट का जवाब पत्थर से देना चाहिए |

Updated: May 22, 2019 — 9:56 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *