मुर्गी पर निबंध ४०० शब्दों में – पढ़े यहाँ Hen Essay In Hindi 400 Words

प्रस्तावना:

मुर्गी यह घर में पाला जाने वाला एक पक्षी हैं | मुर्गी अन्य पक्षियों में बड़ी होती हैं | यह ज्यादातर तो हमारे भारत देश में पाया जाता हैं |

मुर्गी का संबंध पक्षी जाती हैं | पुराने ज़माने में इस मुर्गी का पालन मांस के लिए नहीं बल्कि मुकाबला करने के लिए पाला जाता था |

मुर्गी की शरीर रचना

मुर्गी लाल, सफ़ेद और भूरे रंगों में पाई जाती हैं | मुर्गी की दो टांगे, दो आँखे और एक चोच होती हैं होती हैं |

मुर्गी के सिर पर एक लाल रंग की कलगी होती हैं | मुर्गा यह मुर्गी से बड़ा होता हैं और इसका रंग भी मुर्गी से अधिक चमकदार होता हैं | मुर्गी की उम्र ५ से ८ वर्ष तक होती हैं |

मुर्गी का भोजन

मुर्गी भोजन के रूप में अनाज के दाने, कीड़े – मकोड़े खाती हैं | उसके साथ – साथ सब्जियां भी खाती हैं | सुबह के समय मुर्गा – मुर्गी अपनी बांग से सभी लोगों जगा देती हैं |

मुर्गा – मुर्गी ज्यादातर तो ग्रामीण भागों में दिखाई देती हैं | यह दिखने में बहु प्यारी लगती हैं और सुबह – सुबह उसकी आवाज सुनाई देती हैं |

मुर्गों की कुश्ती

प्राचीन समय में लोग मुर्गा की कुश्ती का आयोजन करते थे | सभी लोग मुर्गा की कुश्ती देखकर बहुत कुश हो जाते थे |

पुराने ज़माने में मुर्गा की कुश्ती प्रसिद्ध थी | लेकिन आज भी कई जगह पर मुर्गों की कुश्ती नजर आती हैं |

मुर्गी का अंडा

हर दिन मुर्गी एक या दो अंडा देती हैं और अंडा देने के लिए मुख्य जगह चुनती हैं | मुर्गी का अंडा स्वास्थ्य के लिए फायदेशीर होता हैं | क्योंकी अंडे में सबसे ज्यादा प्रोटीन पाया जाता हैं |

मुर्गी हल्की सी आहट आने पर भी डर जाती हैं | मुर्गी सालभर में कम से कम २५० अंडे देती हैं | मुर्गी अंडे पर बैठकर अपनी शरीर की गर्मी से बच्चों को जन्म देती हैं |

मुर्गीपालन

कई लोग मुर्गीपालन व्यवसाय के दृष्टिकोण से करते हैं | मुर्गी का अंडा और मांस खाया जाता हैं | कई लोग मुर्गी के मांस का सेवन करते हैं |

निष्कर्ष:

मुर्गी यह एक पक्षी हैं जिसके पंख होते हैं | मुर्गी थोड़ी देर के लिए कम ऊंचाई पर उड़ सकती हैं | यह अपने पैरों पर चलना पसंद करती हैं | मुर्गी का व्यावसायिक दृष्टिकोण से बहुत महत्व रहता हैं |

Updated: May 21, 2019 — 9:54 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *