जीएसटी पर निबंध – पढ़े यहाँ GST Essay In Hindi

प्रस्तावना :

हमारे देश में सन १९९१ में भारत सरकार के द्वारा समान कर लागु करने की चर्चा हुई थी |इस देश में जीएसटी यह एक नई कर प्रणाली है | इस जीएसटी प्रणाली के द्वारा सभी लोगो को वस्तु और सेवा पर समान रूप से कर लगाया जायेगा |

जीएसटी कर कब लागू हुआ –

हमारे देश में 1 जुलाई, २०१७ में भारत सरकार के द्वारा अन्य प्रकार के कर हटाकर एक ही कर की व्यवस्था कर दी गयी है जिसे ‘जीएसटी’ के नाम से जाना जाता है | जीएसटी लागु होने से बहुत लाभ हुए है |

जीएसटी के फायदे

व्यक्ति को हर एक वस्तु / माल लेने के लिए अलग-अलग कर भरना पड़ता था | लेकिन जब से जीएसटी कर की प्रक्रिया शुरू हुई है तब से उन्हें हर चीज अलग अलग कर नही देना पड़ता है |

एक ही कर की व्यवस्था लागु की इसलिए लोग ज्यादा से ज्यादा कर देने लगे और काला धन कम होने लगा | सरकार के पास ज्यादा धन आने की वजह से देश की अर्थव्यवस्था मजबूत हो गयी |

एक कर लागु करने से कई चीजे सस्ती हो गयी और कुछ चीजों के दाम बढ़ गए | वस्तु और सेवा पर कर नही लगता है | लेकिन जो अप्रत्यक्ष रूप से सामान खरीदने पर कर लगाया जाता है |

कर प्रणाली का स्वरुप

जीएसटी लागु करने से केंद्र सरकार को सर्विस टैक्स में से मिलने वाला कर बंद हो जायेगा | और पेट्रोल, डिजेल, एलपीजी गैस इत्यादि वस्तु पर लगने वाले कर कई सालो तक लागु रहेंगे |

सामान्य लोगो को फायदा

जीएसटी लागु होने से आम जनता को सबसे ज्यादा फायदा होगा | क्यों की जीएसटी लागु होने से पुरे देश में सभी लोगो को वस्तु का समान कर भरना पड़ेगा |

जीएसटी  के प्रकार

कर वसूल करने का अधिकार केंद्र सरकार और राज्य सरकार को है | जीएसटी को तीन भाग में विभाजित किया जाता है | पहिले स्टेट जीएसटी, दूसरा सेंट्रल जीएसटी और तीसरा इंटीग्रेटेड जीएसटी ऐसे तीन भागों में विभाजन किया है |

राज्य के अंतर्गत 

इसमें एक राज्य के अन्दर खरेदी और बिक्री पे कर लगाया जाता है और सेंट्रल जीएसटी में राज्य सरकार और केंद्र सरकार दोनों कर वसूली करते है |

अंतरराज्यीय

दो या अधिक राज्यों के बिच में जो खरेदी और बिक्री की जाती है उसपे इंटीग्रेटेड कर लगता है | यह सरकार के द्वारा वसूल किया जाता है |

निष्कर्ष:

जब जीएसटी (कर) की प्रक्रिया लागु की गयी तब व्यक्ति को सभी समस्याओं का सामना करना पड़ा लेकिन इससे हर एक व्यकी को फायदे भी हो गए | जीएसटी की प्रक्रिया शुरू करने से भारत देश की अर्थव्यवस्था पर सकारात्मक बदलाव हुआ |

Updated: April 1, 2019 — 7:55 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *