आतंकवाद पर निबंध – पढ़े यहाँ Essay On Terrorism In Hindi Language

प्रस्तावना:

आतंकवाद यह विश्व की सबसे बड़ी समस्या है | आतंकवाद यह एक हिंसा का प्रकार हैं जो गैर क़ानूनी तरीका हैं | इसके प्रयोग लोगों को डराने के लिए किया जाता हैं |

आज हमारे देश में आतंकवाद यह सामाजिक विषय बना गया हैं | इसका उपयोग आम लोगों और सरकार को डराने के लिए हो रहा हैं | हमारे देश में विविधता में एकता की भावना दिखाई देती हैं |

कई लोग हमारे देश के समस्या को देखकर निस्तबद्ध हो जाते हैं | वो देश के एकीकरण को तोडना चाहते हैं | वे हमारे देश को मिल जुलकर रहता हुआ नहीं देख सकते हैं |

आतंकवाद का अर्थ –

आतंकवाद यह शब्द दो शब्दों से मिलकर बना हुआ हैं – आतंक + वाद | आतंक का अर्थ होता हैं – भय या डर और वाद का अर्थ होता हैं – पद्धति |

यह शब्द आतंक से बनता हैं, जो अपने कुकृत्यों से समाज को डरता हैं उसे ‘आतंकवाद’ कहलाते हैं |

आतंकवादियों का मुख्य उद्देश्य

आतंकवादी लोगों का एक ही उद्देश होता हैं सरकार और लोगों में डर निर्माण करना और अनुसूचित बातों को मनवाना |

आतंकवादी लोगों का कोई धर्म, जाती, राज्य अथवा देश नहीं होता हैं | आतंकवाद का मुख्य लक्ष्य आतंक फैलाना होता हैं |

आतंकवाद की समस्या

आतंकवाद का मतलब होता हैं आतंक की स्थिति को निर्माण करना | आतंकवाद को निर्माण करने के लिए अन्य हिंसात्मक तरीके अपनाये जाते हैं | जिसकी वजह से देश का आर्थिक विकास नहीं हो पाता हैं |

हमारा भारत देश जब निरंतर विकास करने लगता हैं विदेशी शक्तियां भारत देश के विकास से जलने लगती हैं | वो भारत देश के लालची लोगों को पैसा देकर उनसे दंगे करवाते  हैं | जिसकी वजह से देश का विकास नहीं हो पाता हैं |

आतंकवाद का कारण

धार्मिक कट्टरता

हमारे देश में आतंक बढ़ने के बहुत सारे कारण हैं | कई लोग धर्म और जाती के भेदभाव पर एक – दुसरे से झगडा करते हैं |

आतंकवाद उत्पन्न होने के मूल कारण होते हैं – गरीबी, बेरोजगारी, भुखमरी और धार्मिक उन्माद | कई लोग धर्मों के नाम पर एक – दुसरे को मारने के लिए भी पीछे नहीं हटते हैं |

इन सभी  कारणों की वजह से देश की एकता खतरे में पड़ जाती हैं | कुछ विदेशी शक्तियां भारत को कमजोर बनाना चाहती हैं और आतंकवाद को बढ़ावा देती हैं |

आतंकवाद पर नियंत्रण

हमारे देश में से आतंकवाद की समस्या को दूर करने के लिए कठोर कदम उठाना चाहिए | इसे दूर करने के लिए सबसे प्रथम कानून व्यवस्था सदृढ़ बनानी चाहिए | जहाँ – जहाँ पर हमारे देश की सीमा को आंतर राष्ट्रीय सीमा छु रही हैं |

उन सभी क्षेत्रों में नाकाबंदी करनी चाहिए | जो लोग अपने रस्ते भटक रहे हैं उन्हें प्रशिक्षण देकर रोजगार के बहुत सारे पर्याय ढूंढकर देने चाहिए |

निष्कर्ष:

आतंकवाद यह हमारे देश को लगा हुआ एक सबसे बड़ा कलंक हैं | इसे दूर करने के लिए सभी लोगों को प्रयास करना चाहिए | जब सरकार और जनता यह दोनों मिल जुलकर प्रयास करेंगे तभी संभव हो सकता हैं |

Updated: May 22, 2019 — 6:44 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *