प्रदुषण मुक्त दिवाली पर निबंध – पड़े यहाँ Essay On Pullution Free Diwali In Hindi

परिचय:

दिवाली रोशनी और खुशियों का त्यौहार है, दीपावली त्यौहार को और अधिक खुशी से मनाने के लिए हमें इसे प्रदूषण मुक्त दिवाली के रूप में मनाना चाहिए.

दिवाली के समस्या 

दुर्भाग्य से, अभी के दिनों में दिवाली ने अपना मूल अर्थ खो दिया है, और अब उत्सव ज्यादातर पटाखे जलाने के बारे में है. कई तरिकों के पटाखे बाजार में आसानी से उपलब्ध होते हैं, जो वातावरण को हानि पोहचते है और भारत के लोग इस बात को महसूस किए बिना हजारों रुपये खर्च करते हैं कि इससे पर्यावरण के साथ-साथ व्यक्तियों के स्वास्थ्य पर भी असर पड़ रहा है.

प्रदूषण मुक्त दिवाली कैसे मनाएं 

ग्रीन दिवाली मनाएं 

पर्यावरण को प्रदूषित करने के बजाय, आप पटाखों से बच सकते हैं और वास्तव में “ग्रीन दिवाली” मना सकते हैं. यह इस साल एक पर्यावरण के अनुकूल मामला हो सकता है. बिजली की रोशनी का उपयोग न करें. इसके बजाय, छोटे मिट्टी के दीपक और मोमबत्तियों को  जाएं.

यह बिजली की खपत को कम करेगा. टिमटिमाते लैंप भी बेहतर दिखते हैं तो आप वे लगा सकते है. दिवाली मनाने के लिए एल.ई.डी. बत्तियां बिजली की रोशनी का उपयोग करे वे नियमित रोशनी की तुलना में 80% कम ऊर्जा का उपयोग करते हैं तो आप वे उपयोग करें.

हालांकि दिल्ली में पटाखे प्रतिबंधित किये गए हैं क्यूंकि वहा हवा प्रदुषण हद से ज्यादा बाद गया है, लेकिन अन्य स्थानों पर लोग पर्यावरण के अनुकूल पटाखों का इस्तेमाल करते हैं, जिस्से दूसरों की तुलना में कम प्रदूषण होता है. बेहतर यही है की पटाखों का उपयोग बंद करो.

रचनात्मक बनो 

पटाखे में पैसा बर्बाद करने और वायु प्रदूषण बढ़ाने के बजाय हमें रचनात्मक चीजों को बनाने में समय बिताना चाहिए जैसे कि रंगोली से अपने घर को सजाए या फिर फूलों की रंगोली बनाए, जैसे ताजे फूलों का उपयोग करें जैसे कि गेंदा, चमेली, और गुलाब के फूलों का उपयोग करे और सजावट के लिए जगह-जगह घर को सजाए और घर को खूबसूरत बनाए.

अपने घर को साधारण चीजों से सजाएं 

पर्यावरण को प्रदूषित करने वाले प्लास्टिक के लालटेन का उपयोग करने के बजाय, मिट्टी के दीयों का उपयोग करना शुरू करें, वे घर को ज्यादा शोभा भी देते है.

पटाखे जलाने में समय बर्बाद करने के बजाय दोस्तों के लिए पार्टी का आयोजन करें

पटाखे जलाने में पैसे और समय बर्बाद करने के बजाय, अपने दोस्तों और परिवार के लिए घर पर एक पार्टी की योजना बनाएं, अपनी खुद के हातो से मिठाई बनाए जैसे कि लड्डू, बर्फी, खीर, गजरे का हलवा यहाँ मिठाई दूध, नारियल, गुड़, सूखे मेवे जैसे प्राकृतिक वस्तुओं का उपयोग करके बनाए आदि वे अपने रिश्तेदारों के साथ आनंद लेकर खाए. जबकि पार्टी में पर्यावरण के बारे में जागरूकता पैदा करे.

निष्कर्ष:

प्रदूषण मुक्त दिवाली मनाने के लिए जागरूकता पैदा करने के लिए आप इस विषय पर एक मैराथन की मेजबानी कर सकते हैं. ध्वनि प्रदूषण एक खतरनाक प्रदूषक है जो पर्यावरण के लिए खतरनाक है.

पटाखे ध्वनि पैदा करते हैं जो बहुत अधिक होते हैं और मानव कान के लिए सहन करने योग्य नहीं होते हैं. तो चलो हमारे दीपावली त्यौहार को ध्वनि और वायु प्रदूषण मुक्त बनाने की शुरुवात करते है.

Updated: March 21, 2020 — 8:20 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *