स्वतंत्रता दिवस पर निबंध – पढ़े यहाँ Essay On Independence Day In Hindi Language

प्रस्तावना:

हमारा भारत देश यह त्योहारों का देश मन जाता हैं | इस देश में अन्य प्रकार के त्यौहार मनाये जाते हैं | उन सभी त्योहारों में से स्वतंत्रता दिवस यह त्यौहार राष्ट्रीय त्यौहार के रूप में मनाया जाता हैं |

यह दिवस भारतीयों को आजादी के ख़ुशी में मनाया जाता हैं | १५ अगस्त १९४७ यह दिवस हमारे भारतीय इतिहास का सर्वाधिक महत्वपूर्ण और भाग्यशाली दिन हैं |

स्वतंत्रता दिवस कब मनाया जाता हैं –

हमारे भारत देश में हर साल १५ अगस्त यह दिवस स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाते हैं | इस दिन हमारे भारत देश वर्षों के गुलामी के बाद ब्रिटिश सरकार से आज़ादी मिली थी |

यह दिवस हम सभी भारतियों के लिए सबसे महत्वपूर्ण दिवस हैं | इस देश को स्वतंत्र कराने के लिए जाने कितने लोग अपने प्राणों का बलिदान दिया हैं | हर साल यह त्यौहार बड़े धूमधाम और ख़ुशी के साथ मनाया जाता हैं |

लाल किले पर ध्वजारोहण

भारत की आजादी का यह दिन सभी धर्म, परम्परा और संस्कृति के लोग बड़े उत्साह से मनाते हैं | इस दिन भारत देश की राजधानी दिल्ली में लाल किले पर देश के प्रधानमंत्री के द्वारा ध्वजारोहण किया जाता हैं |

देश के तिरंगा को २१ तोपों की सलामी दी जाती हैं | उसके बाद राष्ट्रगीत और राष्ट्रगान को गाया जाता हैं | भारतीय तीनों सेनानियों के द्वारा अपनी ताकद का प्रदर्शन किया जाता हैं |

प्रधानमंत्री के द्वारा भाषण दिया जाता हैं और इस दिन अन्य कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता हैं | इस दिन सभी स्वतंत्रता सेनानियों और देश के शूरवीर जवानों को याद किया जाता हैं |

स्कूल और कॉलेज में स्वतंत्रता दिवस

स्वतंत्रता दिवस के दिन स्कूल, कॉलेज, महाविद्यालयों और सरकारी संस्थाओं में झंडा फहराया जाता हैं | स्कूल और कॉलेज में तिरंगे को सलामी दी जाती हैं और राष्ट्रगीत, राष्ट्रगान को गाया जाता हैं | इस दिन सभी लोग नेताओं और स्वतंत्रता सेनानियों को श्रद्धांजलि अर्पण करते हैं |

स्कूल और कॉलेज में इस दिन अन्य कार्यक्रमों का आयोजन होता हैं | इस दिन अन्य प्रतियोगिता भी रखी जाती हैं | अपनी आज़ादी के ख़ुशी में लड्डू और मिठाइयां बांटी जाती हैं | इस दिन पूरा देश देशभक्ति गानों से गूंज उठता हैं |

स्वतंत्रता सेनानियों का योगदान

हमारे भारत देश को स्वतंत्र कराने के लिए बहुत सारे महान नेताओं और स्वतंत्रता सेनानियों ने अपने जीवन का त्याग किया हैं |

इस देश को आजाद कराने के लिए असंख्य वीरपुत्र शहीद हो गए | अपनी मातृभूमि के लिए उन सभी लोगों ने अपना सबकुछ न्योछावर कर दिया |

निष्कर्ष:

स्वतंत्रता दिवस को राष्ट्रीय अवकाश में घोषित किया गया | यह दिवस हमारा राष्ट्रीय एकता का पर्व माना जाता हैं | हम सभी लोगों को भारतीय होने पर गर्व होना चाहिए और सभी लोगों को अपने देश के प्रति कर्तव्य निभाना चाहिए | हम सभी को किसी भी प्रकार के आक्रमण और अपमान से हमारी मातृभूमि की रक्षा करनी चाहिए |

Updated: May 27, 2019 — 7:10 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *