विद्यार्थी जीवन में अनुशासन का महत्व पर निबंध – पढ़े यहाँ Essay On Importance Of Discipline In Students Life In Hindi

प्रस्तावना:

हर किसी के जीवन में अनुशासन का बहुत महत्व होता हैं | इस अनुशासना के बिन कोई भी व्यक्ति खुशहाल जीवन नहीं जी सकता हैं | अनुशासन विद्यार्थी जीवन में अत्यंत जरुरी हैं | विद्यार्थी जीवन में अनुशासन में रखकर सीखी गई बाते जीवन में काम आती हैं |

अगर विद्यार्थी जीवन में छात्र समय का सदुपयोग करते हैं तो अच्छी शिक्षा ग्रहण करते हैं और उन्हें अपने भावी भविष्य में लाभ पहुँचता हैं |

अनुशासन शब्द का अर्थ –

अनुशासन यह शब्द दो शब्दों से मिलकर बना हुआ है – अनु + शासन | अनु का अर्थ होता हैं – पालन और शासन का अर्थ होता हैं – नियम | जिसका अर्थ होता हैं – नियमों का पालन करना |

अनुशासन का दूसरा अर्थ होता हैं, जो व्यक्ति अपने जीवन में नियमों का पालन करके अपना जीवन बिताता हैं उसे ‘अनुशासन’ कहा जाता हैं |

अनुशासन का जीवन में महत्व

अनुशासन को बड़ा होकर सीखना बहुत कठिन हैं | अनुशासना के बिना किसी भी व्यक्ति का जीवन पशु के समान हो जाता हैं | विद्यार्थी जीवन यह अनुशासित व्यक्ति का जीवन कहा जाता हैं |

इसकी वजह से अनुशासन को जीवन का एक महत्वपूर्ण अंग समझा जाता हैं | अनुशासन ही मनुष्य को पशु जीवन से ज्यादा ऊपर उठाकर मानवता सिखाता हैं क्यों की अनुशासना के बिना मनुष्य का जीवन पशु के समान हो जाता हैं |

अनुशासन के प्रकार

अनुशासन यह दो प्रकार का होता हैं – एक अनुशासन वही होता हैं जो किसी के ऊपर जबरदस्ती थोपा गया हो उसे ‘बाहरी अनुशासन’ कहते हैं |

दूसरा अनुशासन वही होता हैं, जो खुद की इच्छा से किया गया हो उसे ‘आंतरिक अनुशासन’ कहते हैं |

आंतरिक अनुशासन मनुष्य मन से पैदा होता हैं | इस अनुशासन में कोई बोझ नहीं होता हैं और सभी नियमों का पालन किया जाता हैं |

विद्यार्थी जीवन में महत्व

विद्यार्थी जीवन में अनुशासन का विशेष महत्व होता हैं | विद्यार्थी जीवन में हिन विद्यार्थी अनुशासन में रहकर अपने जीवन में सफलता प्राप्त कर सकता हैं | अच्छी शिक्षा हर एक विद्यार्थी को नियमों का पालन करना सिखाती हैं |

विद्यार्थी जीवन में हर एक विद्यार्थी को पाठशाला के नियमों के अनुसार चलना पढता हैं | उसे अपने शिक्षको के आदेशों का पालन करना पड़ता हैं | उनका आदेश मानने अपर ही एक चरित्रवान, आदर्श और एक योग्य नागरिक बन सकता हैं |

इसलिए हर एक विद्यार्थी को अपना जीवन सुखी बनाने के लिए अनुशासना का पालन करना चाहिए | उसके साथ – साथ हर एक विद्यार्थी को समय को व्यर्थ ना करके अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए मेहनत करनी चाहिए |

निष्कर्ष:

हर एक व्यक्ति को अपने जीवन में कभी अनुशासन को नहीं खोना चाहिए | अगर एक बार समय हाथ से निकल गया तो वापस लौट कर नहीं आता हैं |

अपने जीवन में हर एक व्यक्ति ने अनुशासन को अपना लिया तो उसे हमेशा जीवन में सफलता मिलेगी | इसकी वजह से हर एक विद्यार्थी को अनुशासन के महत्व को समझना चाहिए |

Updated: June 17, 2019 — 2:39 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *