दशहरा पर निबंध – पढ़े यहाँ Essay On Dussehra In Hindi

प्रस्तावना:

हमारे भारत देश में अन्य प्रकार के त्यौहार मनाये जाते हैं | इस देश में रहने वाले सभी जाती और धर्म के लोग हर एक त्यौहार को बहुत ख़ुशी और उत्साह के साथ मनाते हैं |

उन सभी त्योहारों में से दशहरा यह हिन्दू धर्म का प्रमुख त्यौहार हैं | इस त्यौहार को विजयदशमी के नाम से भी जाना जाता हैं | यह त्यौहार दस दिनों तक मनाया जाता हैं |

इस त्यौहार में नौ दिनों तक माँ दुर्गा के अनेक रूपों की पूजा की जाती हैं | इस त्यौहार का दसवा दिन विजयादशमी के रूप में मनाते हैं | यह त्यौहार असत्य पर सत्य की जीत का संदेश देता हैं |

दशहरा कब मनाया जाता हैं –

दशहरा यह त्यौहार आश्विन माह की शुक्ल पक्ष दशमी को मनाया जाता हैं | यह त्यौहार सितम्बर या अक्टूबर महीने में पड़ता हैं |

दशहरा यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण त्यौहार हैं | इस त्यौहार का धार्मिक और पारंपरिक दृष्टिकोण से बहुत ज्यादा महत्व हैं | इस त्यौहार को सभी लोग रीती – रिवाज के द्वारा मनाते हैं |

दशहरा क्यों मनाया जाता हैं –

भगवान श्रीराम को उनके राज्य अयोध्या से १४ वर्ष के वनवास पर भेज दिया गया था | लेकिन वनवास के अंतिम सालों में रावण ने सीता का हरण किया था | ऐसा मन जाता हैं की, श्रीराम के भाई लक्ष्मण ने रावण की बहन के नाक – कान काट दिए थे |

उसकी वजह से रावण ने सीता का अपहरण किया था | उसके बाद रावण और श्रीराम के बीच में बहुत बड़ा युद्ध हुआ | विजयादशमी के दिन श्रीराम जी ने रावण पर विजय प्राप्त किया |

दशहरा के दिन भगवन श्रीराम विजय प्राप्त करके अयोध्या वापस लौट आए थे | इस दिन माँ दुर्गा ने महिषासुर का वध भी किया था |

दशहरा का महत्व 

इस दिन का सभी के जीवन में बहुत महत्व हैं | इस दिन सभी लोग अपने अंदर की बुराइयों को खत्म करके नई जीवन की शुरुवात करते हैं |

यह त्यौहार बहुत ही शुभ और पवित्र माना जाता हैं | ऐसा माना जाता हैं, इस दिन शुरू किये गए कार्यों में सफलता प्राप्त होती हैं |

रामलीला का आयोजन

इस त्यौहार के अवसर पर रामलीला का आयोजन किया जाता हैं | दशहरा इस त्यौहार को मनाने के लिए जगह – जगह मेलों का आयोजन भी किया जाता हैं | लोग अपने परिवार के साथ, दोस्तों के साथ खुले आसमान के नीचे मेले का आनंद लेते हैं |

मेले में अन्य प्रकार की वस्तुए बेचने आते हैं | इस दिन कई जगहों पर रावण, कुंभकर्ण और पुत्र मेघनाथ के पुतले बनाकर जलाये जाते हैं | कई लोग राम, सीता और लक्ष्मण इन तीनों का रूप धारण करके जलाते हैं |

निष्कर्ष:

दशहरा यह एक ऐसा पर्व हैं, जो लोगों के शरीर में नई उर्जा संचारता हैं | यह त्यौहार बुराई पर सच्चाई के जीत के रूप में मनाया जाता हैं | इस त्यौहार को शक्ति का प्रतीक माना जाता हैं |

Updated: May 25, 2019 — 9:49 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *