दशहरा पर निबंध – पढ़े यहाँ Essay On Dasara In Hindi

प्रस्तावना:

हमारे भारत देश में त्योहारों का सबसे ज्यादा महत्व हैं | इस देश में मनाने वाले हर एक त्यौहार का अपना – अपना महत्व होता हैं | भारत देश के सभी त्योहारों में से दशहरा यह हिन्दू धर्म का सबसे प्रमुख त्योहारों में से एक हैं |

दशहरा यह त्यौहार भारत देश में सभी जाती और धर्म के लोग बहुत धूमधाम से मनाते हैं | दशहरा का त्यौहार १० दिनों तक चलने वाला त्यौहार हैं |

दशहरा कब मनाया जाता हैं –

दशहरा यह त्यौहार हिन्दू कैलेंडर के अनुसार अश्विन माह के शुक्ल पक्ष (दशमी) को मनाया जाता हैं | यह एक धार्मिक त्यौहार हैं | इस दिन असत्य पर सत्य की जीत हुई थी |

इसलिए इसे विजयादशमी के नाम से जाना जाता हैं | इस त्यौहार को हमारे भारत देश में पुरे रीती – रिवाज और अन्य भागों में अलग – अलग तरीके से मनाया जाता हैं |

दशहरा क्यों मनाया जाता हैं –

इसी भगवान श्रीराम ने रावण का वध किया था और देवी दुर्गा ने नौ दिनों तक संघर्ष करके महिषासुर नामक राक्षस पर विजय प्राप्त किया था |

यह त्यौहार नौ दिनों तक मनाया जाता हैं और दसवा दिन विजयादशमी (दशहरा) के रूप में मनाते हैं |

रामलीला का आयोजन

इस दिनों में कई जगह पर रामलीला का आयोजन किया जाता हैं | यह त्यौहार कई जगह पर पुरे १० दिन तक मनाया जाता हैं | रामलीला में पौराणिक कथा महाकाव्य और रामायण का एक लोकप्रिय अधिनियम हैं |

ऐसा माना जाता हैं की, संत तुलसीदास ने राम की परंपरा शुरू की हैं, जो भगवान श्रीराम के जीवन का वर्णन बताया हैं | उनके द्वारा की गयी रचना ‘रामचरितमानस’ यह आज के समय प्रदर्शन का आधार बन गयी हैं |

दशहरा का महत्व

हर किसी के जीवन में दशहरा इस त्यौहार का सबसे ज्यादा महत्व हैं | इस दिन लोग अपने अंदर की बुराइयों को खत्म करके नए जीवन की शुरुवात करते हैं |

यह त्यौहार बुराई पर अच्छाई के जीत के ख़ुशी में मनाया जाता हैं | इस दिन रावण का पुतला बनाकर उसे जलाया जाता हैं | दशहरा इस त्यौहार को बहुत शुभ और पवित्र मानते हैं |

मेला का आयोजन

दशहरा त्यौहार के अवसर पर कई जगह पर मेला का आयोजन किया जाता हैं | सभी लोग अपने परिवार और दोस्तों के साथ मेला का आनंद लेने जाते हैं | मेला में कई सारी दुकाने आती हैं |

इस दिन बच्चों को बहुत आनंद होता हैं और बच्चे मैदान में रावण का वध देखने जाते हैं | इस दिन कई लोग राम, सीता और लक्ष्मण का रूप धारण करते हैं और रावण के पुतले को जलाते हैं |

निष्कर्ष:

दशहरा यह त्यौहार ख़ुशी का त्यौहार हैं | हम सभी को इस त्यौहार से यही संदेश मिलता हैं की, हमेशा अच्छाई की जीत होती हैं | यह त्यौहार को बुराई पर अच्छाई की विजय का प्रतीक हैं |

Updated: June 17, 2019 — 1:40 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *