सांप्रदायिक एकता पर निबंध – पढ़े यहाँ Essay On Communal Harmony In Hindi

प्रस्तावना:

हमारा भारत देश यह एक महान देश हैं | यह देश अपनी विविधता और संस्कृति के लिए जाना जाता हैं | हमारे भारत देश पुरे विश्व में अपनी अलग पहचान हैं |

इस भारत देश में विविध जाती और धर्म के लोग रहते हैं | लेकिन सभी धर्म की अलग – अलग संस्कृति और भाषा होने के कारण सभी लोग एकता के सूत्र में बंधे हुए हैं |

सांप्रदायिक एकता

सांप्रदायिक एकता यह हमारे भारत देश की महान प्रकृति हैं | इस देश में विभिन्न धर्म और विश्वास करने वाले लोग एकसाथ रहते हैं |

हमारा भारत देश यह एक ऐसा देश हैं, जहाँ पर सभी धर्म और विश्वास के लोग बहुत लम्बे समय से शांतिपूर्वक रह रहे हैं |

धार्मिक और बहुभाषी देश

हमारा भारत देश यह एक धार्मिक और बहुभाषी देश हैं | इस देश में रहने वाले सभी लोग विविधता के बीच में संस्कृति की एकता का आनंद लेते हैं |

यह सभी लोगों को एकजुट रखने का कार्य करता हैं | भारत देश के आज़ादी के बाद धार्मिक और सांप्रदायिक भावनाओं की वजह से इस देश को आकर्षित बना दिया हैं |

धर्मनिरपेक्ष

हमारा भारत देश यह धर्मनिरपेक्ष देश हैं | हमारे भारतीय संविधान ने उसे धर्मनिरपेक्ष देश घोषित किया हैं |

इस देश में किसी भी विशेष धर्म के आधार पर भेदभाव नहीं किया जाता हैं | इस संविधान के अनुसार सभी लोगों को समान अधिकार दिए गए हैं |

अनेकता में एकता

अनेकता में एकता की भावना यह हमारे भारत देश की मुख्य विशेषता हैं | इस देश में विभिन्न धर्म, जाती और भाषाएं होने के साथ – साथ भारत एक हैं |

सांप्रदायिक एकता की वजह से हमारे भारत देश की अखंडता बनी हुई हैं | इस देश में रहने वाले सभी लोग हर एक त्यौहार को बहुत ख़ुशी के साथ और मिलजुलकर मनाते हैं |

सांप्रदायिक एकता का महत्व

हम सभी के जीवन में सांप्रदायिक एकता का बहुत महत्व हैं | सांप्रदायिक एकता देश के सभी लोगों को एकता के सूत्र में बांधने का कार्य करती हैं | हमारे देश के सभी नागरिकों को भारतीय कहा जाता हैं |

इस देश के नागरिक अलग – अलग जाती और धर्म को महत्व न देकर भारतीय को सबसे ज्यादा महत्व देते हैं | वास्तव में जिस देश में सांप्रदायिक एकता होती हैं वह देश तेजी से विकास करता हैं |

निष्कर्ष:

इस देश में रहने वाले सभी लोगों को एक – दुसरे के प्रति ईर्ष्या की भावना नहीं रखनी चाहिए बल्कि एक – दुसरे के साथ मिल जुलकर रहकर जीवन जीना चाहिए |

हमारे भारत देश की सांप्रदायिक एकता आज भी निरंतर हैं | इसलिए उसे राष्ट्रीय एकता का प्रतीक माना जाता हैं |

Updated: June 17, 2019 — 12:50 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *