चंडीगढ़ पर निबंध – पढ़े यहाँ Essay On Chandigarh In Hindi Language

प्रस्तावन:

चंडीगढ़ का नाम तो सबको पता हे. इसे चंडीगड नाम. चंडी देवी के नाम से पड़ा हे. ये पंजाब और हरियाणा के शहरोंके बिच में हे. पहले यहाँ घने जंगल हुआ करते थे. और वहां चंडी का मंदिर स्थित था. इसलिए इस शहर का नाम चंडीगढ़ पड़ा. ऐसे कहना हे.

चंडीगढ़ शहर का निर्माण

चंडीगढ़ शहर का निर्माण १९५३ में डॉ राजेंद्र प्रसाद ने बनाया था. ये शहर पूरा जंगल से भरा हुआ था. आज भी ऊँची ऊँची पहाड़ी वहां देखने मिलती हे. यहा चंडी मता का मंदिर एक पर्यटन स्थल बना दिया गया हे. चंडीगढ़ का मतलब हे चंडी मतलब चंडी माता और गढ़ मतलब किला.

चंडी माता का किला चंडीगढ़. अब ये शहर पूरी तरह से स्थित हे. ये अब पर्यटन स्थल मन जाता हे. पंजाब और हरियाणा की राजधानी चंडीगढ़ हे.

यह शहर बोहोत साफसुधरा और देखने लायक हे. यहाँ पे बड़े बड़े मैदान हे. दुकाने बोहोत सहजता से सजाई गई हे. स्कूल , कॉलेजेस भी बोहोत अच्छी हे. पहले इन जंगलो में बड़े खतरनाक जानवर हुआ करते थे. आज उनकी संख्या काम हुई हे.

चंडीगढ़ शहर का निर्माण में दिक्कते

यह शहर जंगल से भरा था इसे सही जगह स्थित करना बोहोत मुश्किल था. इसका जिम्मा पंडित जवाहरलाल नेहरू ने उठाया था. जिसमे बोहोत सारी कठनाईया हो रही थी. इसलिए तब उन्होने एक समिति बनायीं थी. चंडीगढ़ शहर बसने में.

चंडीगढ़ की खासियत

चंडीगढ़ आज एक सौन्दर्य का प्रतिक बना हुआ शहर हे. लम्बी चौड़ी काली सड़के। उसके बाजु में लगे हुए हरे भरे पौधे. इन रास्तो का ख़ास ध्यान रखा जाता हे. कोई कचरा या एक कागज का टुकड़ा भी आपको इस जगह नहीं मिलेगा. बड़े बड़े मैदानों में बड़े बड़े गार्डन बी बनाये गए हे. जहा हर रंग के फूल पौधे खिलखिलाते रहते हे.

यहाँ की आबादी बढ़ती जा रही हे. लेकिन इसका कोई असर इसकी सुंदरता पर नहीं पड़ रहा. रोज सुबह लोग टहलने, और घूमने आते हे. इन रास्तो पर गाड़िया दौड़ती हे|

चंडीगढ़ की परंपरा

यहाँ बने बड़े बड़े उद्यान और उनमे बानी पानी के बड़े बड़े फवारे शाम को सबका मन मोहित करती हे. बच्चे बूढ़े इन सबका आनंद लेने घरो से बहर निकलते हे. चंडीगढ़ की बोली भाषा हिंदी और पंजाबी हे. क्यूकी पंजाब और हरियाणा के बिच में ये शहर स्थित हे. आर्ट गैलरी, हाइकोर्ट सैन्ट्रल स्टेट लाइब्रेरी विधान सभा भवन ये सब चंडीगढ़ की खासियत हे|

चंडीगढ़ का गार्डन

चंडीगढ़ एक गार्डन हे जिसका नाम रोक गार्डन हे. जो कूड़े कचरे हम फेंक देते हे और जो अनुयपयोगी चीजे होती हे उससे ये गार्डन सजाया गया हे. वो मन को बोहोत आकर्षित करता हे. यहै का सुखना झील भी देकने जैसा हे. यहाँ केक्टस के पौदे मन भर देते हे. और चंडीगढ़ शहर की खासियत भी|

चंडीगढ़ की सुविधाएं

यह शहर अब हर चीजोंसे उपयुक्त हे. यहाँ बड़े बड़े थियेटर बनाये गए हे. स्कूल्स हे. यहाँ मोहिला नामक क्रिकेट स्टेडियम भी हे जहा बड़ी बड़ी प्रतियोगिताएं होती हे.

सारांश:

ये एक पर्यटन स्थल हे. यहाँ की बनायी गयी मानव निर्मित चीज़े अपना मन लुभा लेती हे. आईये कब चंडीगढ़ की सैर करने.

Updated: March 14, 2020 — 11:37 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *