पर्यावरण प्रदूषण पर निबंध कक्षा ५ के लिये – पढ़े यहाँ Environmental Pollution Essay In Hindi For Class 5

प्रस्तावना:

पर्यावरण यह एक सबसे महत्वपूर्ण घटक हैं | पर्यावरण से मनुष्य को बहुत सारी चीजे मिलती हैं | लेकिन मनुष्य उसका दुरूपयोग करता हैं | मनुष्य वनों की कटाई करता हैं उसके कारण अन्य प्रकार की समस्या निर्माण हो जाती हैं | आज पुरे दुनिया में पर्यावरण प्रदूषण यह एक बहुत बड़ी समस्या बन चुकी हैं |

पर्यावरण प्रदूषण का अर्थ –

पर्यावरण प्रदूषण का अर्थ होता हैं की, पर्यावरण के विविध चीजों का विनाश करना | इस पर्यावरण को विनाश करने का मुख्य कारण हैं, पेड़ों की कटाई करना और औद्योगिकीकरण इसकी वजह से पर्यावरण का विनाश होता हैं | इन दोनों का प्रभाव मनुष्य और प्रकृति पर होता हैं |

पर्यावरण प्रदूषण के प्रकार

प्रदूषण यह अन्य कारणों के कारण होता हैं | प्रदूषण के विभिन्न प्रकार हैं, लेकिन प्रदूषण यह मुख्य रूप से जल प्रदूषण, वायु प्रदूषण और ध्वनि प्रदूषण इन तीन प्रकार से होता हैं |

जल प्रदूषण

मनुष्य कारखानों में से निकलने वाला दूषित पानी जल के स्त्रोतों में छोड़ देता हैं | इसलिए पूरा जल दूषित हो जाता हैं |

कई लोग नदी, नाले, समुंद्र इन जल के स्त्रोतों में कचरा फेक देते हैं | इसके कारण जल दूषित हो जाता हैं और मनुष्य को कई बिमारियों का सामना करना पड़ता हैं |

वायु प्रदूषण

air pollutionकंपनीयों और वाहनों में से निकलने वाला धुआँ और हानिकारक गैस हवा में मिलने के कारण वायु प्रदूषण हो जाता हैं |

इसके कारण मनुष्य को साँस लेना भी बहुत मुश्किल हो जाता हैं | हवा में हानिकारक गैसों के मिलने की वजह से हवा दूषित हो जाती हैं |

ध्वनि प्रदूषण

कई लोग कार्यक्रम आयोजित करते हैं तो, लाउडस्पीकर, डीजे यह चिजों का उपयोग करते हैं | इनके आवाज के कारण ध्वनि प्रदूषण जैसी समस्या निर्माण हो जाती हैं | उसके साथ – साथ वाहनों का शोर इन. सभी कारणों की वजह ध्वनि प्रदूषण होता हैं |

पर्यावरण प्रदूषण के कारण

हमारे देश की लोकसंख्या धीरे – धीरे बढ़ते ही जा रही हैं | इसलिए कई लोग घर बनाने के लिए पेड़ों की कटाई करते हैं |

तो कई लोग पेड़ों की लकड़ी का उपयोग इंधन के रूप में करते हैं | वनों की कटाई करने के कारण इस धरती पर कई प्रकार के हानिकारक गैस निर्माण हुए हैं |

पर्यावरण की जरुरत

सभी ग्रहों में से पृथ्वी यह एक सुंदर ग्रह हैं, जहाँ पर पर्यावरण और मानव जीवन का अस्तित्व हैं | हम सभी को पर्यावरण को स्वच्छ और सुंदर रखने के लिए जल और वायु को स्वच्छ रखना होगा | मनुष्य अपनी सुख सुविधाओं के लिए पर्यावरण का विनाश कर रहा हैं | इसकी वजह से उसे प्रदूषण जैसी समस्या का सामना करना पड रहा हैं |

निष्कर्ष:

इस धरती पर बिना जल और वायु के बिना हर एक मनुष्य का और सजीव सृष्टी का जीवन जीना बहुत असंभव हैं |

इसलिए हम सभी को इसे रोकने के लिए कदम उठाने चाहिए | और पर्यावरण का रक्षण करना चाहिए | तभी हमारा पर्यावरण सुरक्षित, सुंदर और स्वच्छ रहेगा |

Updated: April 10, 2019 — 6:28 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *