महिला सशक्तिकरण पर निबंध – पढ़े यहाँ Empowerment Of Women Essay In Hindi

प्रस्तावना:

महिला सशक्तिकरण यह महिलाओं के लिए एक योजना शुरू की गयी है | महिला सशक्तिकरण में यह बात होती है की, हर एक महिला समाज और परिवार के बंधनों से मुक्त होकर अपने जीवन के फैसले खुद कर सके |

यह महिलाओं को सशक्त करने के लिए मोहिम शुरू की गयी है | हर एक महिला खुद अपने फैसले ले सके और सभी बंधनों को तोड़कर अपने जीवन में आगे बढ़ सके |

महिला सशक्तिकारण का अर्थ –

महिलाओं को अपना जीवन जीने के खुद फैसले लेना का अधिकार देना ही ‘महिला सशक्तिकरण’ होता है |

महिला को उसके अधिकार को प्राप्त करने के लिए सशक्त बनाना ही ‘महिला सशक्तिकरण’ होता है |

महिला सशक्तिकरण का उद्देश

महिला सशक्तिकरण को बहुत आसान शब्द में स्पष्ट किया है | इससे हर एक महिला सशक्त बनती है और अपने फैसले खुद कर सकती है | महिला समाज और परिवार में अच्छे से रह भी सकती है |

महिला सशक्तिकरण का हेतु होता है की, हर एक महिला को शक्ति प्रदान करना जिससे वो कभी हमारे समाज में पीछे ना रह सके | हर एक महिला पुरुषों के साथ साथ कंधे से कंधे मिलकर चल सके और अपना सिर उठाकर चले |

विविध प्रथा

समाज में महिलाओं को अनेक समस्या का सामना करना पड़ता है | जैसे की दहेज़ प्रथा, बाल विवाह, अशिक्षा, भ्रूण हत्या, बाल मजदूरी और लिंग भेदभाव इ मुश्किलों का सामना करना पड़ता है |

इन सभी प्रथाओ से मुक्त होने के लिए हर एक महिला को सशक्त बनना होगा | महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए समाज में उनके अधिकार और मूल्यों को छिनने वाले लोगो के सोच को ख़तम करना चाहिए |

महिलाओं को सशक्त करने के लिए समाज में उनके के साथ होने वाले गैरव्यवहार के खिलाफ आवाज उठाना चाहिए |

समाज सुधारकों का कार्य

महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए बहुत सारे समाज सुधारको ने आवाज उठाया था | महात्मा फुले और सावित्रीबाई फुले, स्वामी विवेकानंद इन्होने महिलाओं के लिए उन्नति के लिए आवाज उठाया और संघर्ष किया |

महिला सशक्तिकरण की जरुरत

हमारे देश में पुरुषों को महिलाओं से ज्यादा सक्षम समझा जाता है | पुराने ज़माने में महिलाओं को पुरुषों की तरह काम करने के लिए नही दिया जाता है | उनको घर की जिम्मेदारी सौपी जाती है | भारतीय समाज में महिलाओं पर हिंसा की जाती थी |

परिवार और समाज में भेदभाव किया जाता था | लेकिन देश के आज़ादी के बाद महिलाओं में थोडासा बदलाव दिखाई दे रहा है | महिला अपने अधिकारों के लिए खुद लढने लगी है | महिलाओं के सशक्त करने के लिए सभी को प्रयास करना होगा |

निष्कर्ष:

महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए भारत सरकार को प्रयत्न करना होगा | महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए समाज के बुरी प्रथाओं को हटा देना चाहिए | सभी लोगो को अपनी सोच बदलनी होगी |

Updated: April 3, 2019 — 11:19 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *