महिला सशक्तिकरण पर निबंध कक्षा ४ के लिए – पढ़े यहाँ Empowerment Of Women Essay In Hindi For Class 4

प्रस्तावना:

देश में सभी महिलाओं को सुरक्षित और सशक्त बनाने के लिए ‘महिला सशक्तिकरण’ इस योजना को शुरू किया हैं | जिसके कारण हर एक महिला समाज के और परिवार के बंधनों को तोड़कर अपने जीवन में आगे बढ़ सके | इसके साथ – साथ महिलायें खुद अपने फैसले ले सके |

महिला सशक्तिकरण का अर्थ –

महिला सशक्तिकरण का अर्थ होता हैं – इसकी वजह से हर एक महिला शक्तिशाली बन सकती हैं और अपने जीवन का फैसला खुद कर सकती हैं | महिलाओं को समाज और देश में अपने अधिकार प्राप्त करने के लिए उन्हें सशक्त बनाया जाता हैं उसे ‘महिला सशक्तिकरण’ कहते हैं |

महिला सशक्तिकरण का उद्देश

महिला सशक्तिकरण का उद्देश होता हैं की, हमारे देश की सारी महिलायें शक्ति प्रदान करके वो हमारे समाज में पीछे ना रह जाये | वो पुरुषों के साथ कंधे से कंधे मिलकर अपना हर एक कार्य करे |

देश और समाज में अपना सर उठाकर चल सके | महिलाओं को उनके सभी अधिकार दिलाना हैं यही इस योजना का मुख्य हेतु हैं |

महिला सशक्तिकरण की जरुरत

हमारा भारत देश यह एक पुरुषप्रधान वाला देश हैं | जहाँ पर पुरुषों को महिलाओं के बराबरी में सक्षम समझा जाता हैं |

महिलाओं को पुरुषों की तरह कोई भी क्षेत्र में काम करने के लिए नहीं दिया जाता था | उनको घर से बाहर भी निकलने नहीं देते थे और उन्हें घर में ही रहकर परिवार की देखभाल करनी पड़ती थी | महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए उन्हें चार दीवारों से बाहर निकलना होगा |

प्राचीन युग की महिला

प्राचीन समय में महिलाओं पर परिवार और समाज के द्वारा दबाव रहता था | समाज में दोनों में भेदभाव किया जाता था | महिलाओं के साथ बहुत हिंसा की जाती थी | पुराने ज़माने में महिलाओं को अन्य प्रथाओं का सामना भी करना पड़ता था | जैसे की सती प्रथा, दहेज़ प्रथा, बाल विवाह, कन्या भ्रूण हत्या इत्यादि |

देश का विकास

महिलाओं को घर में काम करने के लिए और घर को सँभालने के लिए मजबूर किया जाता हैं | लेकिन कई लोग यह नहीं जानते हैं की, महिला समाज की आधी शक्ति होती हैं |

महिलाओं को देवी की तरह पूज्यनीय माना जाता हैं | हमारे देश और समाज में पुरुष और महिला इन दोनों को समान अधिकार और समान रूप से माना जायेगा तो हमारा देश का विकास हो जायेगा |

महिला संरक्षण

आज देश में महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने के लिए कई सारे कानून और कायदे बनाये गए हैं | इन कानून और कायदों के द्वारा महिलाओं को उनके अधिकार देने के लिए सहायता हो जाएगी |

निष्कर्ष:

भारतीय समाज में से बुरी प्रथाओं को दूर करना चाहिए और लोगों को अपनी सोच बदलनी चाहिए | अगर हर एक मनुष्य अपनी सोच को बदलेगा तो हमारे पुरे देश की भी सोच बदल जाएगी |

सभी लोगों को महिला सशक्तिकरण के महत्व को समझना चाहिए | देश और समाज में महिलाओं का सम्मान करना चाहिए | उन्हें उनके सभी हक्क देने चाहिए |

Updated: April 11, 2019 — 1:28 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *