नोटबंदी पर निबंध कक्षा ४ के लिए – पढ़े यहाँ Demonetization Essay In Hindi For Class 4

प्रस्तावना:

हमारे देश में का भ्रष्टाचार और आतंकवाद को रोकने के लिए नोटबंदी करने का निर्णय लिया हैं | यह निर्णय हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सरकार के द्वारा लिया गया हैं | नोटबंदी होने की वजह से काला धन बाहर आ जाता हैं | इसलिए सरकार अपने पैसों का हिसाब रखने के लिए नोटबंदी की प्रक्रिया की जाती हैं |

नोटबंदी क्या हैं –

नोटबंदी यह एक ऐसी प्रक्रिया हैं, जिसके द्वारा पुराने नोटों और सिक्कों को बंद करके उसकी जगह पर नए नोटों और सिक्कों का चलाया जाता हैं उसे नोटबंदी कहा जाता हैं | नोटबंदी की वजह से मुद्रा का क़ानूनी दर्जा निकलकर नए सिक्कों में लागु किया जाता हैं |

जब नए नोट समाज और देश में आ जाते हैं तो पुराने नोटों और सिक्कों की कोई किम्मत नहीं रहती हैं | पुराने नोटों को बैंक के द्वारा बदलवाया दिया जाता हैं और नोट बदलने के लिए निर्धारित समय दिया जाता हैं |

नोटबंदी कब हुई थी –

देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ८ नवम्बर २०१६ को शाम को ८ बजे ५०० और १००० की नोटों को बंद करने की घोषणा की थी |

इन्होंने जब नोटबंदी की घोषणा की थी, तब सभी लोगों ने बैंक के बाहर लाइन लगानी शुरू कर दी | नोटबंदी की वजह से आम जनता को बहुत सारी तकलीफ हो गयी |

नोटबंदी के कारण

महंगाई, भ्रष्टाचार, आतंकवाद, कालाधन और नकली नोटों पर काबू पाने के लिए नोटबंदी का प्रयोग किया गया हैं | जो लोग भ्रष्टाचारी होते हैं, वो कालेधन को छुपाकर रखते हैं | जिसके कारण वो उसके ऊपर लगने वाले कर से बच सकते हैं |

कालेधन का उपयोग आतंकवादी लोग बहुत करते हैं | नोटबंदी की वजह से भ्रष्टाचारी और आतंकवादी लोगों को पुराने नोटों का प्रयोग करते हुए पकड़ा गया हैं |

देश में नोटबंदी

भारत देश में कई बार नोटबंदी की गयी हैं | इस देश में सन १९४६ में ५०० और १००० की नोटों को बंद करवाया गया था |

उसके बाद मोरारजी के सरकार में भी सन १९७८ में १०००, ५००० और १०००० के नोटों को बंद किया गया था | सन २००५ में मनमोहन सिंह की सरकार ने ५०० के नोटों को बदलवाया था |

नोटबंदी के फायदे

नोटबंदी की वजह से कई सारे फायदे भी होते हैं और हानियाँ भी होती हैं | नोटबंदी की वजह से सभी लोगों को आर्थिक कर और उसके प्रति जिम्मेदारी का एहसास हुआ | नोटबंदी के कारण कई लोग ऑनलाइन पेमेंट करने लगे |

नोटबंदी की वजह से बहुत सारे नकली नोट बाहर आ गए | नोटबंदी की वजह से नौकरिया भी स्थिर होने लगी और किसी को बेरोजगार होने का की समस्या दूर हो गयी |

नोटबंदी की हानी

नोटबंदी होने के कारण बहुत हानी हो गयी | सभी लोगों को बैंक और एटीएम के सामने खड़ा होना पड़ता था | लोगों को बहुत सारी समस्याओं का सामना करना पड़ता था |

बहुत सारे लोगों ने मोदीजी का साथ दिया और कुछ लोगों ने इसे इनकार कर दिया | नोटबंदी की वजह से देश के विकास और अर्थव्यवस्था के लिए बहुत सारी सहायता मिल गयी |

निष्कर्ष:

नोटबंदी का यह फैसला काले धन को रोकने के लिए एक बड़ा कदम था | अगर हमारे देश को आगे बढाना हैं और देश का विकास करना हैं तो ऐसे बड़े कदम उठाने होंगे |

Updated: May 16, 2019 — 7:26 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *