स्वच्छता पर निबंध कक्षा २ के लिए – पढे यहाँ Cleanliness Essay In Hindi For Class 2

प्रस्तावना:

स्वच्छता यह विभिन्न रोगों से बचने का सबसे अच्छा उपाय हैं | स्वच्छता मनुष्य के सुखी जीवन की आधारशिला होती हैं | स्वच्छता की वजह से मनुष्य की सात्विक वृत्ति को बढ़ावा मिलता हैं |

स्वच्छता यह एक ऐसी क्रिया हैं जो, हमारे शरीर, दिमाग, घर और आसपास की जगह को स्वच्छ रखती हैं | स्वच्छता मनुष्य के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए बहुत जरुरी होती हैं |

स्वच्छता का अर्थ –

स्वच्छता का अर्थ होता है, हमारे शरीर और आसपास की जघोंको सुफ़ सुथरा रखना होता हैं | अगर मनुष्य को स्वच्छता रखेगा तो उसका मन प्रसन्न रहेगा |

आचरण की शुद्धता

स्वच्छता हमारे चरित्र की शुद्धता के लिए बहुत जरूरी होती हैं | मनुष्य का चरित्र शुद्ध रहेगा तो उसके चेहरे पर प्रसन्नता दिखाई देगी | सभी लोग उस व्यक्ति को अच्छी नजर से देखेंगे | स्वास्थ्य के लिए स्वच्छता बहुत जरूरी होती हैं|

स्वच्छता की जरुरत

मनुष्य को स्वच्छता रखना यह उसका प्राथमिक गुण होता हैं | अगर मनुष्य साफ – सफाई नहीं रखेगा तो सांप, बिच्छु, कीड़े – मकोड़े, मक्खी यह सभी घर में प्रवेश करेंगे |

जिसके कारण अन्य प्रकार की बीमारी हो जाएगी और हानिकारक कीटाणु घर में फ़ैल जाएंगे | स्वच्छता यह सभी के लिए बहुत जरुरी हैं |

स्वच्छता का महत्व

स्वच्छता हम सभी मानसिक, शारीरिक, मानसिक और सामाजिक रूप से स्वस्थ रखने का कार्य करती हैं | स्वच्छता यह मनुष्य को खुद करनी चाहिए |

हमारे भारतीय धर्म ग्रंथ में स्वच्छता और साफ – सफाई के बारे में बताया हैं | हमारे देश में धार्मिक स्थलों पर सबसे ज्यादा गन्दगी पायी जाती हैं |

धार्मिक स्थलों पर अन्य कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता हैं, तब बहुत सारे श्रद्धालु वहाँ पर पहुँचते हैं | लेकिन कई लोग स्वच्छता के महत्व से अनजान होकर भी वहाँ पर बहुत सारी गन्दगी फैलाते हैं |

स्वच्छता के उपाय

अगर मनुष्य साफ – सफाई रखेगा तो उसे अन्य बिमारियों का सामना नहीं करना पड़ेगा | स्वच्छता से मनुष्य का मन प्रसन्न रहता हैं | स्वच्छता के सहायता से मनुष्य अपने आसपास के वातावरण को दूषित होने से बच सकता हैं |

स्वच्छता यह देश, समाज और घर को स्वच्छ और स्वस्थ रखने का सबसे अच्छा उपाय हैं | मनुष्य को अपने घर के साथ – साथ अपने देश को स्वच्छ और साफ – सुथरा रखना चाहिए |

अस्वच्छता के परिणाम

कई लोग नदी – नालो, समुन्दर, तालाब इन सभी जल के स्त्रोतों में कूड़ा – कचरा फेकते हैं और नालियों में दूषित जल छोड़ देते हैं |

जिसकी वजह से बहुत सारी बदबू आने लगती हैं और लोगों को वहाँ से गुजरना भी बहुत मुश्किल हो जाता हैं | और लोगों को बहुत सारे बिमारियों का सामना करना पड़ता हैं | इसका परिणाम मनुष्य के ऊपर होता हैं |

निष्कर्ष:

स्वच्छता यह सभी के जीवन में बहुत जरुरी हैं | मनुष्य को अपना जीवन जीने के लिए शुद्ध वातावरण की आवश्यक हैं | इसलिए उसे हमेशा स्वच्छता को अपनाना होगा और उसके प्रति सभी लोगों को जागरूक करना चाहिए |

Updated: May 15, 2019 — 6:51 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *