बिहार दिवस पर निबंध हिंदी में – पढ़े यहाँ Bihar Day Essay In Hindi

प्रस्तावना

बिहार भारत देश का राज्य है | बिहार राजनीति का एक केंद्र बिंदु है | बिहार देश पुरातन काल से सांस्कृतिक का भी केंद्रबिंदु माना गया है | इस देश में से गंगा नदी और उनकी अन्य सहायक नदियों का भी स्थान बिहार देश में बसा है |

बिहार

देश के स्वतंत्रता आन्दोलन के बाद बिहार की वापस उन्नति हो गयी थी | महात्मा गांधीजी ने इस बिहार से ही सविनय अवज्ञा आन्दोलन की शुरुवात की थी |

 

गांधीजी को अंग्रेजो ने बिहार यात्रा के दौरान उनको मोतीहारी जेल में भेजा गया था | जेपी आन्दोलन के बाद बिहार में राजनीतिक और सामाजिक स्थिति में बहुत सारा बदलाव हो गया था |

बिहार की स्थापना

बिहार की स्थापना ‘सन १९१२’ में हुई थी | बिहार का पुरातन काल का नाम ‘मगध’ था | बिहार की राजधानी पटना है | पटना बिहार का सबसे बड़ा शहर है |

मुख्य भाषा

बिहार में हिंदी, उर्दू, भोजपुरी, मागधी, अंगकी ई. मुख्य भाषाए बोली जाती है | बिहार में अलग अलग भाषाए बोली जाती है |

क्षेत्रफल

क्षेत्रफल में बिहार का 12 वा स्थान है और जनसँख्या में बिहार का तीसरा क्रमांक लगता है | बिहार यह एक सबसे बड़ा राज्य है |

पर्यटन स्थल

बिहार में महात्मा गाँधी सेतु, नालंदा विश्वविद्यालय, महाबोधि मंदिर, विष्णुपाद मंदिर और बोधगया मंदिर यह सब पर्यटन स्थल है | यह पर्यटन स्थल बिहार की शोभा बढ़ाते है |

सीमाए

बिहार राज्य की सीमाए पूर्व में पश्चिम बंगाल, पश्चिम में उत्तर प्रदेश और दक्षिण में झारखण्ड और उत्तर में नेपाल तक जुडी गयी है | बिहार को सन २००० में झारखण्ड राज्य से अलग कर दिया गया था |

बिहार के प्रमुख त्योहार

बिहार में होली, दिवाली, दशहरा, महाशिवरात्रि, मुहर्रम, ईद, नागपंचमी यह सब त्योहार मनाये जाते है | उसके साथ साथ क्रिसमस यह भी त्योहार मनाया जाता है |

निष्कर्ष

बिहार यह एक बहुत बड़ा राज्य है | यह सांस्कृतिक दृष्टी से भी महत्वपूर्ण है | बिहार में अलग अलग त्योहार भी मनाये जाते है |

Updated: February 27, 2019 — 9:47 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *