ए.पी.जे अब्दुल कलाम पर निबंध – पढ़े यहाँ A P J Abdul Kalam Essay In Hindi

प्रस्तावना:

ए.पी.जे अब्दुल कलाम इन्होंने वैज्ञानिक, संशोधक, शिक्षक और भारत देश के राष्ट्रपती इत्यादि. अन्य पदों पर कार्य किया हैं | ए.पी.जे अब्दुल कलाम यह भारत के सबसे लोकप्रिय व्यक्तियों में से एक हैं | उन्होंने हमेशा नई पीढ़ी को अपने पुरे जीवन, कार्य और लेखन से प्रेरणा दी हैं |

ए.पी.जे अब्दुल कलाम इनका जन्म

ए.पी.जे अब्दुल कलाम इनका जन्म १५ अक्टूबर, १९३१ को तमिलनाडु के रामेश्वरम में हुआ था | इनका पूरा नाम डॉ. अब्दुल पकिर जैनुलाबद्दीन अब्दुल कलाम हैं | इनके पिता का नाम जैनुलाबद्दीन यह एक मध्यमवर्गीय परिवार के थे |

शिक्षण

ए.पी.जे अब्दुल कलाम इन्होंने प्राथमिक शिक्षा रामनाथपुरम से पूर्ण की | प्राथमिक शिक्षा प्राप्त करने के बाद वो उन्होंने सन १९५० में तिरुचिरापल्ली के सेंट ऑफ़ जोसेफ कॉलेज बी. एस. सी की परीक्षा उत्तीर्ण की थी | सन १९६३ से १९८२ तक अंतरिक्ष अनुसंधान समिति में अलग – अलग पदों पर कार्य किया हैं |

मिसाइल मैन

ए.पी.जे अब्दुल कलाम इन्होंने भारत देश के लिए अग्नि और पृथ्वी जैसी मिसाइले बनाई जिसके कारण उनको ‘मिसाइल मैन’ के नाम से भी जाना जाता हैं | इस भारत देश को एक शक्तिशाली देश बनाने के लिए उनका योगदान महत्वपूर्ण हैं |

ए.पी.जे अब्दुल कलाम यह एक साधरण और धार्मिक प्रवृत्ति के व्यक्ति थे | वो मुस्लिम होने के नाते हमेशा नमाज अदा करते थे | उसके साथ साथ वो दूसरों धर्मों का भी सम्मान करते थे | वो एक राम भक्त भी थे |

पुस्तकों की निर्मिती

अब्दुल कलाम इनको बचपन से संगीत में रूचि थी | वो संगीत को ध्यान से सुना करते थे और उसके बाद अपने ही धुन में गुनगुनाया करते थे | बहुत सारे लोग इनको कवी मानते थे | इन्होंने दो पुस्तके लिखी जो काफी प्रसिद्ध हुई | अब्दुल कलाम इन्होंने ‘इंडिया २०२०’ और ‘विंग्स ऑफ़ फायर एन औटोबायोग्राफी’ यह दो पुस्तके लिखी |

पुरस्कार प्रदान

अब्दुल कलाम इनको सन १९८१ के गणतंत्र दिवस के अवसर पर पद्म भूषण से सन्मानित गया | उसके बाद उन्हें भारत सरकार द्वारा सन १९९० में उन्हें ‘पद्म भूषण’ और  सन १९९७ में भारत के सर्वोच्च नागरिक ‘भारतरत्न’ इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया |

देश के लिए योगदान

अब्दुल कलाम यह वैज्ञानिक और लोगों के राष्ट्रपति के रूप में प्रसिद्ध थे | उन्होंने इस देश के लिए बहुत कार्य किये हैं | अब्दुल कलाम यह राजनीती से दूर रहकर भी इन्होंने राजनीती के क्षेत्र में अच्छा कार्य किया हैं | उन्होंने अपने राष्ट्रपती केंकर्य्कल में अन्य देशों का भ्रमण किया और सभी लोगों को शांति का संदेश दिया |

निष्कर्ष:

ए.पी.जे अब्दुल कलाम यह एक वैज्ञानिक होने के साथ साथ एक अच्छा व्यक्ति और कवी भी थे | भारत देश के छवि को एक शक्तिशाली देश के रूप में उभारा और देश का नाम ऊँचा किया हैं |

उन्होंने रक्षा और अनुसंधान के क्षेत्र में अच्छा योगदान दिया हैं | उन्होंने भारत देश को अन्य देशों की तरह पूर्ण रूप से संपन्न किया |

Updated: April 2, 2019 — 7:56 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *